सड़क निर्माण कंपनी GDCL पर होगी FIR: मंडला-जबलपुर सड़क निर्माण कार्य में देरी, लापरवाही बन रही दुर्घटनाओं का कारण

मंडला3 मिनट पहले

कॉपी लिंक

मंडला कलेक्टर हर्षिका सिंह ने नेशनल हाईवे 30 मंडला-जबलपुर मार्ग की निर्माण कंपनी जीडीसीएल के विरुद्ध एफआईआर करने निर्देश दिए हैं। उन्होंने सड़क निर्माण से संबंधित बैठक में मंडला-जबलपुर राजमार्ग की गुणवत्ता एवं अन्य बिन्दुओं पर चर्चा करते हुए सड़क दुर्घटनाओं पर चिंता जाहिर की। जनता को मार्ग से होने वाली परेशानी के चलते एसडीएम निवास को जीडीसीएल पर FIR दर्ज कराने निर्देशित किया। साथ ही उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कंपनी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने अपने विभागीय स्तर पर पत्राचार करें।

यह है मामला

वर्ष 2015 में मंडला-जबलपुर के 63.55 किमी मार्ग निर्माण का कांट्रेक्ट MPRDC ने GDCL को दिया था। निर्माण कंपनी GDCL ने 17 दिसंबर 2015 को मार्ग का निर्माण प्रारंभ किया। जिसकी अनुमानित लागत 251.84 करोड़ रुपए और 18 महीनों बाद 16 जून 2017 को कार्य पूर्ण होना था, परंतु 7 वर्ष बीत जाने के बाद भी निर्माण कार्य पूर्ण नहीं हुआ, और जो निर्माण हुआ है वह गुणवत्ताहीन है। जिसके कारण दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है।

तय समय में निर्माण कार्य पूरा ना होने के बाद ठेका कंपनी को कार्य पूरा करने के लिए बार-बार समय दिया गया, लेकिन निर्माण कार्य में धीमी गति और गुणवत्ता विहीन कार्य के कारण 7 वर्ष से निर्माणाधीन नेशनल हाईवे 30 जिले वासियों के लिए परेशानियों का कारण बना हुआ है।

आए दिन हो रही दुर्घटनाएं

ऐसा नहीं है कि निर्माण में देरी ही एकमात्र समस्या है। निर्माण में भी गुणवत्ता पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि ग्राम पंचायतों में जिस तरह से सीसी रोड बनाई जाती है उस तर्ज पर कार्य किया गया। जिसके कारण मार्ग में जगह-जगह दरारें, गड्ढे हो गए। जिन्हें छिपाने थिगड़े लगा दिए जाते हैं। सड़क पूरी तरह समतल नहीं होने की वजह से रफ्तार में वाहन उछल कर अनियंत्रित हो जाते है, जो दुर्घटनाओं का कारण बन रहे हैं।

विभागीय कार्यवाही प्रारंभ

अब जिला प्रशासन की पहल पर मार्ग निर्माण कंपनी GDCL पर FIR आर सहित अन्य विभागीय कार्यवाही प्रारंभ की जा रही है। साथ ही NHAI एवं MPRDC से भी उम्मीद की जा रही है कि उनके द्वारा ठोस प्रयास किए जाएं। जिससे जिलेवासियों को गुणवत्तायुक्त नेशनल हाईवे में सफर करने मिल सके।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!