गरबों में इंट्री से पहले तिलक लगाकर आधार चेक होगा: ​​​​​​​आव्हान अखाड़े के महामंडलेश्व अतुलेशानन्द ने कहा- लव जिहादियों को रोकने के लिए करेंगे चेकिंग

उज्जैनएक घंटा पहले

15 दिन बाद देशभर में नवरात्रि के पर्व की शुरुआत होगी, इसके लिए अभी से गरबा पंडालों में तैयारियां शुरू हो गई हैं। इससे पहले आव्हान अखाड़े के महामंडलेश्वर अतुलेशानंद सरस्वती ने सभी गरबा पंडालों में लड़कों को आधार चेक कर एंट्री देने और अपनी खुद की सेना के 10 से 20 कार्यकर्ताओं को सभी पंडालों में उपस्थित रहने के आदेश दिए हैं।

संत अतुलेशानंद महाराज ने कहा कि सभी गरबा पंडालों में सिंह वाहिनी की लड़कियां, लड़कों को तिलक लगाएंगी और इसके बाद ही लड़कों को प्रवेश दिया जाएगा। अखंड हिन्दू सेना के 10 से 20 कार्यकर्ता प्रत्येक पंडालों पर इस बात का ध्यान रखेंगे कि लव जिहाद करने वाले लड़के गरबा पंडालों में प्रवेश न करें।

संत ने आरोप लगाया कि शक्ति की आराधना का केंद्र नवरात्रि के पंडालों में बच्चियां देवी की आराधना करने आती हैं और उन्हीं पंडालों में लव जिहादी तत्व लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने पहुंच जाते हैं, उनके साथ गलत व्यवहार करते हैं। इस बार पंडालों में प्रवेश करने वाले सभी लोगों को तिलक लगाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा।

महामंडलेश्वर की अखंड हिंदू सेना में 7000 कार्यकर्ता-

संत अतुलेशानंद महाराज ने बताया कि उज्जैन जिले में करीब 7000 से अधिक अखंड हिंदू सेना के कार्यकर्ता हैं। सभी को गरबा पंडालों में अलग-अलग जगह पर तैनात किया जाएगा। इसके साथ ही पूरे प्रदेश भर में करीब ढाई लाख कार्यकर्ताओं की बड़ी फौज उनके पास है और सभी को नवरात्रि शुरू होने से पहले आदेश कर दिया जाएगा।

सिंह वाहिनी में 1800 लड़कियां भी शामिल-

महामंडलेश्वर प्रतिवर्ष लड़कियों को शस्त्र चलाने की ट्रेनिंग देते है। करीब 18 सौ से अधिक लड़कियां उनके संगठन में शामिल हैं। ये सभी लड़कियां उज्जैन में रहकर गरबा मंडलों पर नजर रखेंगी।

मंत्री उषा ठाकुर ने भी दिया था बयान-

गुरुवार को संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर का गरबा पंडाल को लेकर दिया एक बयान सामने आया था . उन्होंने कहा है कि गरबा पंडाल लव जेहाद का माध्यम बनते रहे हैं, लिहाजा अब जरूरी है कि इन पंडालों में आईडेंटिटी कार्ड के जरिए ही नौजवान युवक युवतियों को एंट्री दी जाए।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!