मेडिकल कॉलेज के छात्र ने की आत्महत्या: नीट की परीक्षा में नहीं हो पाया था पास, तनाव में आकर मौत को लगाया गले

जबलपुर33 मिनट पहले

नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज में अध्ययनरत एक छात्र ने आज एनेस्थीसिया की दवा अधिक मात्रा में लेकर अपनी जान दे दी। बताया जा रहा है कि मृतक छात्र देवेंद्र चौधरी मूलतः कटंगी का रहने वाला था। मेडिकल छात्र के आत्महत्या करने के बाद गढ़ा पुलिस ने परिजनों को सूचना देते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कालेज़ भेंज दिया हैं। देवेंद्र का नीट एग्जाम क्लियर नही हुआ था जिसको लेकर भी वह तनाव में था।

मृतक देवेंद्र के भाई ने बताया कि वे अपने कैरियर को लेकर हमेशा गंभीर रहता था। हाल ही में उसने नीट एग्जाम दिया था पर क्लियर नहीं हो पाने के चलते तनाव में आ गया था। संभवता इसी के चलते उसने एक साथ अत्याधिक दवाइयों का सेवन करके अपनी जान दे दी। देवेंद्र चौधरी एनएसथीसिया का छात्र था और वही दवाई पी कर उसने आत्महत्या कर ली। देवेंद्र दो भाई थे उसके अलावा परिवार में माता-पिता हैं।

देवेंद्र चौधरी के भाई ने बताया कि उसका सपना था कि बहुत बड़ा डॉक्टर बन अपने माता-पिता की सेवा करूंगा पर बीच में कोरोना वायरस आ गया चलते कोचिंग बंद हो गई, इसका प्रभाव उसकी पढ़ाई में भी पड़ा। देवेंद्र चौधरी गढ़ा के पास एक किराए के मकान में रहकर पढ़ाई कर रहा था। देवेंद्र की हालत बिगड़ने पर उसके मकान मालिक ने मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!