रीवा में पैदल जा रही महिला से लूट: अस्पताल का पता पूछने के बहाने एक ने रोका, दूसरा आकर बोला- अयोध्या के महान संत है, झुमका और मोबाइल डाल दो झोली में

रीवा17 मिनट पहले

कॉपी लिंकअमहिया थाना अंतर्गत पीटीएस चौराहे का मामला

रीवा शहर में दिन दहाड़े पैदल जा रही महिला के साथ लूट का मामला सामने आया है। बताया गया कि गुरुवार की दोपहर अमहिया थाना अंतर्गत पीटीएस चौराहे के पास संत के भेष में दो बदमाश खड़े थे। जिन्होंने महिला को अकेला आता देख बिछिया अस्पताल का पता पूछने के बहाने रोक लिया। तभी दूसरा बदमाश आकर बोला कि ये अयोध्या के महान संत है। झुमका और मोबाइल तुरंत झोली में डाल दो, नहीं बेटे को खतरा हो जाएगा।

झांसा में आकर महिला ने कान के झुमके उतार कर बाबा के हैंड बैग में डाल दिए। इसके बाद दोनों बदमाशों ने दौड़ लगा दी। जब तक महिला कुछ समझ पाती, तब तब बदमाश आंखों से ओझल हो गए। लूट का आभास होने के बाद महिला ने अपने बेटे को बुलाया। इसके बाद अमहिया थाने पहुंचे। पुलिस महिला का शिकायती आवेदन रखकर आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों का फुटेज देख रही है। जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मिली जानकारी के मुताबिक 15 सितंबर की दोपहर पुलिस लाइन निवासी महिला राजकुमारी सेन बेटे के साथ नगर निगम कार्यालय जाने के लिए घर से निकली। ऐसे में बेटा अपनी मां को पीटीएस चौराहा तक बाइक से छोड़ कर लौट गया। पीटीएस से महिला जैसे ही आगे बढ़ी, इसी दौरान दो बदमाश मिल गए।

पुलिस का कहना है कि महिला को बदमाशों ने सोना डबल करने का लालच दिया था। जिससे महिला झांसे में आ गई। तुरंत अपने आभूषण उतार कर उनके बैग में रख दी। इसके बाद एक बदमाश हाथ से बैग छीनकर भाग गया। महिला का दावा है कि बैग में मोबाइल सहित कुछ रुपये भी थे। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!