इंदौर में PFI के ठिकानों पर NIA का छापा: चार PFI पदाधिकारी गिरफ़्तार, सादर बाजार और छिपा बाखल इलाके से देर रात गिरफ्तारी

इंदौर13 मिनट पहले

इंदौर में टेरर फंडिंग के मामले में इंदौर से चार पदाधिकारियों को एनआईए ने गिरफ्तार किया है। पीएफआई के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल करीम बेकरीवाला को NIA ने गिरफ्तार किया है। इसके अलावा अब्दुल जावेद सहित कुल चार पीएफआई पदाधिकारियों को भी गिरफ्तार किया है। यह कार्रवाई इंदौर के सादर बाजार और छिपा बाखल इलाके में देर रात एक से तीन बजे की बीच की गई। इनके पास से कई तरह के संदिग्ध और भड़काऊ दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं।

इंदौर आए मप्र के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि एनआईए ने देश भर में कार्रवाई की है। करीब 100 लोगों को पकड़ा है। इंदौर में भी कार्रवाई हुई है। मैं इस बारे में ज्यादा जानकारी साझा करना ठीक नहीं समझता। पीएफआई प्रांतव्यापी नहीं राष्ट्रव्यापी संगठन है।

इंदौर कलेक्टर मनीषसिंह ने कहा कि एनआईए ने हमसे पुलिस बल मांगा था। इंदौर में भी एक साल पहले युवा मुस्लिमों को भड़काने का मामला सामने आया था। इसके बाद इंदौर प्रशासन ने अब्दुल रऊफ को जिला बदर किया था। जाहिद पठान पर रासुका भी लगाई है। हम ऐसे लोगों पर लगातार दबाव बनाए हुए हैं।

इंदौर में पीएफआई का कर्ताधर्ता अब्दुल रऊफ बेलिम हाल ही में जिलाबदर हुआ है। पीएफआई का दफ्तर पहले बंबई बाजार की ताज बिल्डिंग के नजदीक संचालित होता था। यहां पूर्व में पंढरीनाथ और सराफा थाना संयुक्त कार्रवाई कर चुकी है।

देशभर में एकसाथ की गई कार्रवाई

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के कई ठिकानों पर आज सुबह से ही नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) और ईडी (ED) ने छापेमार कार्रवाई की है। इंदौर के अलावा उज्जैन में भी PFI के ठिकानों पर कार्रवाई की गई है।

MP सहित 11 राज्यों में छापेमारी नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) और ईडी ने (ED) ने मध्य प्रदेश सहित 11 राज्यों में छापेमार कार्रवाई की है। इंदौर और उज्जैन के अलावा 11 राज्यों से PFI से जुड़े कुल 106 सदस्यों को गिरफ्तार किया है, जिनमें इंदौर और उज्जैन के चार लोग भी शामिल हैं। इनमें संगठन प्रमुख ओमा सालम भी शामिल है। NIA ने यह कार्रवाई उत्तर प्रदेश, केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, असम, महाराष्ट्र, बिहार, मध्यप्रेदश, पुडुचेरी, राजस्थान में जारी है।

इंदौर में गुरुवार को इंदौर सहित मालवा के कई जगहों पर छापेमार कार्रवाई की गई है। इस दौरान इंदौर से 3 और उज्जैन से 1 को एनआईए टीम द्वारा अपने साथ दिल्ली ले जाने की बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि NIA के करीब 200 अधिकारी इस रेड को अंजाम दे रहे हैं। इस संगठन पर सांप्रदायिकता फैलाने का आरोप है।

यह खबर लगातार अपडेट की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!