क्षय मुक्त भारत अभियान: निक्षय मित्र बनकर डॉक्टरों और स्टाफ ने चंदा कर टीबी मरीजों काे वितरित किया पोषण आहार

Hindi NewsLocalMpBetulBy Becoming Friends, Doctors And Staff Distributed Nutritional Food To TB Patients By Donating

बैतूल24 मिनट पहले

कॉपी लिंक

क्षय मुक्त भारत करने के लिए चलाए जा रहे अभियान में टीबी मरीजों की कम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जिला अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ ने गुरुवार को पोषण आहार का वितरित किया। टीबी के पांच मरीजों को डॉक्टर और स्टाफ ने खुद से खर्च से पोषण आहार का वितरण किया। टीबी मरीजों के लिए निक्षय मित्र योजना चलाई जा रही है। इस योजना के तहत टीबी मरीजों के लोग भी निक्षय मित्र बनकर कम्यूनिटी सपोट के रूप में पोषण आहार सहित अन्य उपयोगी सामग्री का वितरण कर सकते हैं। जो उन्हें जल्द स्वस्थ कराने में लाभदायक होगी।

जिला अस्पताल में क्षय मुक्त भारत अभियान की शुरुआत पर क्षय अधिकारी डॉ. आनंद मालवीय ने बताया टीबी मरीजों को कम्यूनिटी सपोट देने के लिए शुरुआत की है। पहले दिन डॉक्टरों और स्टाफ ने आपस में 3 हजार रुपए जमा कर पांच टीबी मरीजों को पोषण आहार बांटा। इसमें पौष्टिक दालें, सोया बड़ी, सत्तू सहित अन्य पोषण आहार शामिल था। इस अवसर सिविल सर्जन डॉ. अशोक बारंगा ने बताया जिले में क्षय रोगी हैं, उनके लिए पोषण आहार योजना रखी है। इसकी जनभागीदारी योजना की शुरू की है। इसमें हर मरीज का निक्षय मित्र बनेगा, जो मरीज को छह माह या एक साल तक पोषण आहार भी वितरित करेगा।

निक्षय मित्र करेगा मरीज की मॉनिटरिंग

इस योजना के तहत प्रत्येक मरीज का एक निक्षय मित्र बनेगा जो मरीज की मॉनिटरिंग करेगा। टीबी मरीज दवा प्रतिदिन खा रहा है या नहीं, उसे दिया जाना वाला पोषण आहार का उपयोग कर रहा है या नहीं। इसकी देखरेख भी निक्षय मित्र करेगा। कोई भी जनप्रतिनिधि, अधिकारी व आम लोग टीबी मरीज का निक्षय मित्र बन सकता है।

जिले में हैं 1600 टीबी के मरीजजिले में वर्तमान में 1600 टीबी के मरीज हैं। इन मरीजों को जिला अस्पताल में निशुल्क इलाज मिलता है। इसके अलावा मरीजों को प्रतिमाह 500 रुपए की राशि भी प्रदाय की जाती है। मरीजों को इसके अलावा कम्यूनिटी सपोट के लिए निक्षय मित्र योजना शुरू की है। इस योजना से मरीजों को जल्द स्वस्थ होने में मदद मिलेगी और भारत क्षय मुक्त होगा।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!