नीमच में PFI नेताओं पर कार्रवाई का विरोध: शहर में फ्रंट ऑफ इंडिया के सदस्यों ने कलेक्टर कौ सौंपा ज्ञापन

नीमच35 मिनट पहले

पीएफआई के राष्ट्रीय एवं प्रादेशिक नेताओं पर हो रही कार्रवाई के विरोध में शुक्रवार को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के सदस्यों ने महामहिम राष्ट्रपति व कलेक्टर के नाम तहसीलदार विवेक गुप्ता को ज्ञापन सौंपा।

जिसमें बताया गया कि दिनांक 22 सितंबर को एनआईए और ईडी द्वारा देश भर में इंडिया के राष्ट्रीय और प्रादेशिक स्तर के नेताओं तथा कार्यकर्ताओं के आवास पर छापे मारी की गई। यह छापेमारी बगैर किसी जांच और सबूतों के आधार पर की गई है।

पापुलर फ्रंट आफ इंडिया एक सामाजिक संगठन है जो देश की लोकतांत्रिक और संवैधानिक व्यवस्था में विश्वास रखता है तथा मज़लूम, शोषित और दबे कुचले लोगों के लिए सामाजिक इंसाफ और बराबरी की मांग करता है।

पापुलर फ्रंट आफ इंडिया किसी भी तरह की गैर कानूनी गतिविधि में शामिल नहीं है और न ही किसी अन्य आतंकी संगठन से कोई संबंध है। देश की जांच एजेंसियां केंद्र सरकार की चापलूसी कर रही हैं और देश में जो लोग सरकार की दमनकारी नीतियों का विरोध करते हैं उन्हें इसकी गिरफ्त में लिया जा रहा है। सरकार देश की मूल भूत समस्याओं से जनता का ध्यान हटाने के लिए इस तरह की कार्रवाई करवा रही है।

ज्ञापन के माध्यम से मांग कि गई है कि पापुलर फ्रंट आफ इंडिया के राष्ट्रीय और प्रादेशिक स्तर के नेताओं को तुरंत रिहा किया जाए।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!