रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर का हत्यारा गिरफ्तार: पुलिस को चकमा देने बदमाश ट्रेन में चढ़ गया, दो घंटे की सर्चिंग के बाद पकड़ा

ग्वालियर3 घंटे पहले

रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर की हत्या का आरोपी मायाराम, जिस पर दस हजार का ईनाम घोषित है।

बहोड़ापुर के घोसीपुरा श्रीविहार कॉलोनी में की थी हत्या

ग्वालियर की श्रीविहार कॉलोनी में रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर की हत्या करने वाले 10 हजार रुपए के इनामी बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसे पुलिस ने दक्षित भारत के एक शहर बैंगलुरू से गिरफ्तार किया है। पुलिस को देखकर वह एक ट्रेन में चढ़ गया। उसके पीछे पुलिस भी ट्रेन में सवार हो गई। करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद उसे गिरफ्तार किया है। उसने अपने तीन अन्य साथियों के साथ रिटायर्ड पुलिसकर्मी के घर लूट की वारदात को अंजाम दिया फिर नींद से जागने पर पुलिसकर्मी की हत्या कर दी। तीन आरोपी पहले ही पकड़े जा चुके हैं।यह था पूरा मामलाशहर के बहोड़ापुर घोसीपुरा स्थित श्रीविहार कॉलोनी निवासी रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर मेघसिंह राजावत के घर में दो साल पहले चार बदमाश चोरी के इरादे से घुसे थे। वारदात करने के बाद जब वह जा रहे थे तभी रिटायर्ड पुलिसकर्मी की नींद खुल गई। उन्होंने विरोध किया तो आरोपियों ने रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर की हत्या कर दी। घटना से पूरे शहर में सनसनी फेल गई थी। पुलिस ने इस मामले को चैलेंज के रूप में लिया था। सात दिन के अंदर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया था, लेकिन हत्याकांड का एक आरोपी मायाराम फरार था। जिसकी तलाश दो साल से पुलिस कर रही थी। इस पर पुलिस अधीक्षक की ओर से 10 हजार रुपए का इनाम भी घोषित था। काफी दिन से पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई थी।8 दिन की घेराबंदी तब जाल में फंसा इनामी हत्या आरोपीआठ दिन पहले क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि आरोपी बैंगलुुरू में छुपा हुआ है। इसका पता चलते ही क्राइम ब्रांच की टीम को बैंगलुरू भेजा गया था, लेकिन सटीक पता नहीं होने पर पिछले आठ दिन से पुलिस टीम बैंगलुरू में उसकी तलाश में लगी थी। इसी बीच आरोपी को पुलिस की भनक लग गई और वह पुलिस टीम से बचने के लिए वहां से भागा और ट्रेन में सवार हो गया। पुलिस को उसके भागने का पता चला तो उसी ट्रेन में पुलिस जवान भी सवार हो गए। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद हत्या आरोपी मायाराम पुलिस के हाथ लग गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया और उसे लेकर ग्वालियर लौटी है।रायफल भी लूट ले गया था आरोपीपुलिस पड़ताल में पता चला है कि आरोपी मायाराम गुर्जर रिटायर्ड दरोगा की रायफल भी लूट ले गया था। इसके साथ ही पुलिस टीम पकड़े गए आरोपी से अन्य वारदातों की पूछताछ में जुटी है। रायफल बरामद होना अभी बाकी है।पुलिस का कहना- इस मामले में पुलिस अधीक्षक अमित सांघी का कहना है कि दो साल पहले रिटायर्ड पुलिसकर्मी की हत्या कर फरार हुए इनामी बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उससे फिलहाल पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!