आरएसएस भवन की सुरक्षा बढ़ी: केरल में हुई घटना के बाद कार्यालय के बाहर सुरक्षा कर्मी तैनात

36 मिनट पहले

उज्जैन के मालीपुरा स्थित आरएसएस के आराधना भवन के बाहर शनिवार को अचानक सुरक्षा बढ़ा दी गई। माना जा रहा है की केरल में आरएसएस कार्यालय पर हुए हमले और उज्जैन में पीएफआई के कार्यकर्ता की गिरफ्तारी के बाद सुरक्षा बढ़ी है। अब हर आने जाने वालो की चेकिंग के बाद ही कार्यालय में प्रवेश दिया जा रहा है।

शहर में दो दिन पहले पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के प्रदेश सचिव को विराट नगर आगर रोड़ से पकडने के बाद इंटेलीजेंसी से जिला पुलिस को मिली सूचनाओं और केरल में आरएसएस कार्यालय पर हमले को देखते हुए सरदारपुरा स्थित संघ कार्यालय की सुरक्षा में 4 गनमैन के अलावा यहां मेटल डिटेक्टर मशीन भी लगा दी गई है।

NIA के खिलाफ हुआ प्रदर्शन

NIA द्वारा पीएफआई के खिलाफ की गई करवाई उज्जैन के विराट नगर में रहने वाले जमील नामक युवक को भी NIA ने दो दिन पहले घर से उठाया था। उसके परिजनों द्वारा कोठी पैलेस पर ज्ञापन देकर जमील के संबंध में जानकारी देने की मांग रखी। इधर इंटेलीजेंस एजेंसी से मिले इनपुट के बाद पुलिस द्वारा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरदारपुरा स्थित आराधना भवन कार्यालय की सुरक्षा व्यवस्था तैनात की गई है। कार्यालय की सुरक्षा में 24 घंटे 4 पुलिसकर्मी तैनात किये गये हैं। इस घटना के बाद उज्जैन में इंटेलिजेंट की टीम सक्रिय हो गई है और अन्य प्रकार की गतिविधियों पर लगातार नजर बनाए रखे हुए हैं

पीएफआई के केरल बंद के दौरान हिंसक प्रदर्शन हुए

मटनूर में आरएसएस ऑफिस पर हमला भी हुआ। इस प्रदर्शन के बाद इंटेलीजेंस एजेंसियां सक्रिय हो चुकी हैं। इधर उज्जैन के देवास गेट थाने के पास सरदारपुरा इस्तिथ संघ सहित अन्य हिंदूवादी संगठनों के ऑफिस की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!