बीसीआई का आयोजन: संविधान की ओरिजनल ड्राफ्टिंग कमेटी में आठ सदस्य वकील थे, इस वजह से भी हमारा संविधान विश्व में श्रेष्ठ- जस्टिस माहेश्वरी

Hindi NewsLocalMpIndoreEight Members Were Lawyers In The Original Drafting Committee Of The Constitution, Because Of This Also Our Constitution Is The Best In The World Justice Maheshwari

इंदौर8 मिनट पहलेलेखक: राहुल दुबे

कॉपी लिंकवकीलों के राष्ट्रीय सेमिनार और ट्रेनिंग प्रोग्राम में बोले इंदौर से नाता रखने वाले जस्टिस जेके माहेश्वरी

इंदौर से नाता रखने वाले सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जेके माहेश्वरी ने वकीलों के राष्ट्रीय सेमिनार और ट्रेनिंग प्रोग्राम में कहा कि इस प्रोफेशन में जो लोग हैं, वह देश की रीति-नीति और राष्ट्रीय राजनीति को प्रभावित कर सकते हैं। हमारे संविधान की जो ओरिजनल ड्राफ्टिंग कमेटी थी, उसमें आठ सदस्य वकील थे। इस वजह से भी हमारा संविधान विश्व में श्रेष्ठ है। बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) द्वारा यह आयोजन पटना में आयोजित किया गया है। इसमें इंदौर सहित प्रदेशभर के वकील भी शामिल हुए। सेमिनार का विषय था ‘समाज को गढ़ने में वकीलों का योगदान’।

जस्टिस माहेश्वरी ने कहा कि देश का गौरवशाली इतिहास हो या आजादी की लड़ाई, वकीलों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण रही है। मदन मोहन मालवीय, पं. जवाहर लाल नेहरू, लाला लाजपत राय, बाल गंगाधर तिलक, यह सभी वकील थे, जिन्होंने आजादी की लड़ाई का रास्ता तैयार किया था। देश की पहली संसद में 26 वकील चुनकर गए थे। उन संसद सदस्यों ने प्रारंभिक स्तर पर जो कानून बनाए, उनके हिसाब से राज्यों में संचालन हो रहा है। नए वकीलों को इतिहास की किताब से सीख लेनी चाहिए और पेशे के दिग्गजों के बारे में अधिक से अधिक पढ़ना चाहिए, उनके जीवन से सीखना चाहिए। उद्घाटन सत्र में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस यूयू ललित, केंद्रीय विधि एवं कानून मंत्री किरण रिजिजू भी मौजूद थे। विशेष अतिथियों में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस संजय किशन कौल, जस्टिस बीआर गवई, जस्टिस एमएम सुंदरेश, जस्टिस एमआर शाह, जस्टिस पीएस नरसिम्हन भी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!