जय श्रीराम के जयकारों के साथ रवाना हुई तीर्थदर्शन ट्रेन: सागर से 325 तीर्थयात्रियों को तुलसी की माला पहनाकर काशी बनारस और अयोध्या की यात्रा पर किया रवाना

Hindi NewsLocalMpSagar325 Pilgrims From Sagar, Wearing Tulsi Garlands, Set Off On A Journey To Kashi, Banaras And Ayodhya

सागरएक घंटा पहले

कॉपी लिंकसागर से तीर्थदर्शन ट्रेन हुई रवाना। - Dainik Bhaskar

सागर से तीर्थदर्शन ट्रेन हुई रवाना।

सागर रेलवे स्टेशन से रविवार रात तीर्थदर्शन यात्रा रवाना हुई। यात्रा में सागर से 325 तीर्थयात्री ट्रेन में सवार हुए हैं। मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन यात्रा योजना के तहत सागर जिले को 325 तीर्थ यात्रियों का कोटा मिला था। आवेदनों की संख्या अधिक होने पर लाटरी सिस्टम से प्रशासन ने तीर्थयात्रियों का चयन किया था। चयन होने के बाद यात्रियों को तीर्थयात्रा ट्रेन के टिकट दिए गए। रविवार रात तीर्थदर्शन ट्रेन सागर रेलवे स्टेशन पर पहुंची।

जहां सागर से 325 तीर्थयात्री ट्रेन में सवार हुए। इससे पहले प्रशासन के अधिकारियों ने तीर्थयात्रियों को तुलसी की माला पहनाई। जिसके बाद उन्हें यात्रा पर रवाना किया गया। यात्रा रवाना होते ही रेलवे स्टेशन पर बम-बम भोले और जय श्रीराम के जयकारे गूंज उठे।

डिप्टी कलेक्टर व मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना की नोडल अधिकारी शशि मिश्रा ने बताया कि सागर जिले से 325 यात्री तीर्थदर्शन यात्रा पर गए हैं। यात्रा के दौरान तीर्थ दर्शन ट्रेन में तीर्थ यात्रियों के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं कराई गई हैं। भोजन, नाश्ता, पानी, चाय और काशी विश्वनाथ व अयोध्या में रुकने की आवासीय व्यवस्था भी कराई गई है। साथ ही तीर्थ दर्शन ट्रेन में तीर्थ यात्रियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए डॉक्टर भी साथ रवाना किए हैं। ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए प्रत्येक बोगी में एक अनुरक्षण अधिकारी को तैनात किया गया है जो तीर्थयात्रियों की उपस्थिति दर्ज करेगा और आवश्यक व्यवस्थाएं कराएंगे।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!