दलित को कुर्सी पर बैठना पड़ा भारी: पंचायत से बाहर निकालकर पीटा, घर पर शिकायत करने पर जानलेव हमला किया

छतरपुर (मध्य प्रदेश)44 मिनट पहले

कॉपी लिंक

पंचायत कार्यालय में दलित व्यक्ति को कुर्सी पर बैठना भारी पड़ गया। जहां उसे पंचायत से निकालकर बुरी तरह पीटा गया। मौके पर मौजूद लोगों ने युवक को समझाइश देकर शांत कराया और उसके घर पर उलाहना दे दिया। घर पर शिकायत पहुंचने से नाराज युवक ने अपने साथियों के साथ दलित व्यक्ति के घर पहुंचकर उसे बेरहमी से पीट दिया। गंभीर रूप से घायल दलित व्यक्ति को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही पुलिस को सूचना दी गई है।

मामला जिले के मातगुवां थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत चौका का है जहां के सरपंच कृष्णगोपाल और घायल ने बताया कि शुक्रवार को गांव का 35 वर्षीय हल्लू (पुत्र मठोला अहिरवार) कपिल धारा कूप योजना का लाभ लेने के लिए अपने दस्तावेज लेकर पंचायत कार्यालय आया था जहां वह कुर्सी पर बैठ गया। इसी बीच गांव का रोहित सिंह ठाकुर पंचायत कार्यालय पहुंचा जहां हल्लू को कुर्सी पर बैठा देख उसे गुस्सा आ गया और वह गाली-गलौज कर मारपीट करने लगा। मौके पर मौजूद सरपंच कृष्णगोपाल, सचिव अरविंद अहिरवार ने बीचबचाव कर रोहित को शांत कराया और रोहित की शिकायत उसके माता-पिता से कर

मामले में शिकायत होने से बौखलाए रोहित ने शनिवार की शाम करीब साढ़े 4 बजे को अपने दो अन्य साथियों के साथ हल्लू अहिरवार के घर पहुंचकर हॉकी, लाठी डंडों से उसे बुरी तरह पीट दिया। मारपीट में हल्लू के हाथ-पैर टूटने के साथ-साथ उसके सिर में गंभीर चोट आई हैं। घायल हल्लू को सरपंच कृष्णगोपाल अपने वाहन से अस्पताल लाए जहां उसका उपचार किया जा रहा है।

हल्लू और पत्नी गीता बताती हैं कि वह मेहनत मज़दूरी कर अपना और अपने बच्चों का भरण पोषण करते हैं। इस हमले में उनके दोनों हाथ फ्रेक्चर हैं जिससे अब महीने 2 महीने वह काम नहीं कर सकेंगें जिससे उन्हें खाने के लाले पड़ने वाले हैं।

सरपंच- कृष्णगोपाल (सरपंच, ग्राम पंचायत चौका), और सेकेट्री- अरविंद अहिरवार (सेकेट्री, ग्राम पंचायत चौका) ने बताया कि मातगुवां थाना पुलिस को फोन से घटना की जानकारी दे दी गई है तो वहीं घयाल को जिला अस्पताल के ट्रामा वार्ड में भर्ती किया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!