3 दिन बाद भी नहीं मिले लापता नवजात: भोपाल में पति ने झाड़-फूंक के बाद अस्पताल में भर्ती कराया, डॉक्टरों ने किया डिस्चार्ज

भोपाल36 मिनट पहले

भोपाल से 23 सितंबर को चोरी हुए जुड़वा नवजात का पुलिस तीन दिन बाद भी पता नहीं लगा पाई है। 20 दिन के बच्चों को लेकर मां मायके जाने को निकली थी। महिला ने दावा किया था कि दोनों बच्चों को रोड किनारे रखकर दूसरी तरफ टॉयलेट के लिए चली गई। लौटी तो बच्चे नहीं मिले। ऑपरेशन होने की वजह से पुलिस महिला पर दबाव नहीं बना पाई। महिला को परिजनों को दे दिया था। परिवार वाले भूत-प्रेत का साया मानकर झाड़-फूंक कराने के लिए ले गए थे, वहां भी महिला ने बच्चों के बारे में कुछ नहीं बताया। इसके बाद परिवार ने महिला को जेपी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर डॉक्टरों ने ऑपरेशन होने की वजह से आराम करने की बात कहकर डिस्चार्ज कर दिया। डॉक्टरों का कहना है कि इनकी तबियत ठीक नहीं है। इनको इधर-उधर घुमा रहे हैं, जिसकी वजह से महिला काफी कमजोर हो गई हैं। कुछ बोल नहीं पा रही है।

पुलिस के मुताबिक अभी बच्चों का कुछ पता नहीं चला है पुलिस खोजने में लगी है। महिला की तबियत खराब होने की वजह से उन्हें 25 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महिला को 26 सितंबर को 3 बजे के करीब डिस्चार्ज कर दिया गया है। महिला काफी कमजोर हो गई हैं थोड़ा स्वास्थ्य सुधारने पर फिर पूछताछ करेंगे।

कपड़े फेंकने वाले का भी सुराग नहींपुलिस को जांच के दौरान 23 सितंबर को ही हबीबगंज इलाके से बच्चों के कपड़े मिले थे, लेकिन ये किसने फेंके? इसका पता पुलिस अभी तक नहीं लगा पाई। पुलिस और नगर निगम की अलग-अलग टीमें जुड़वा नवजात की कोलार, हबीबगंज और टीटी नगर में तलाश कर चुकी है। घटना से जुड़े सीसीटीवी भी सामने आए हैं लेकिन उसमें महिला बच्चों के साथ नहीं दिख रही है।

23 सितंबर को हबीबगंज इलाके में मिल गए थे बच्चों के कपड़े।

23 सितंबर को हबीबगंज इलाके में मिल गए थे बच्चों के कपड़े।

महिला के पिता ने भूत-प्रेत होने का दावा किया थाबच्चों की मां सपना धाकड़ को परिवार वाले बैरसिया सोहाया गांव मायके ले गए। उसे झाड़-फूंक करने वाले पंडे को दिखाया। सपना के पिता गुलाब सिंह धाकड़ ने दावा किया कि बेटी पर भूत-प्रेत का साया है। वह चूना भट्‌टी की वैशाली यादव का नाम ले रही थी। उसका कहना है कि वह पिंकी (सपना की जेठानी) को लेने आई थी। वह नहीं मिली, तो सपना और उसके दोनों बच्चों को सुबह 4 बजे लेकर चली गई। बच्चे कहां हैं? नहीं बताऊंगी।

यह भी पढ़ें…

सिटी बस में बैठते दिखी लापता नवजात की मां:भोपाल में 55 घंटे बाद भी नहीं मिले बच्चे; पिता का दावा- बेटी पर ‘प्रेत’ का साया

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!