पीएफआई से जुड़े लोगों के ठिकानों पर दबिश: पीएफआई से जुड़े पार्षद सहित दो गिरफ्तार, पूछताछ कर जेल भेजा

शाजापुर23 मिनट पहले

कॉपी लिंकपीएफआई से जुड़े लाेगाें का मेडिकल करवाकर जेल ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar

पीएफआई से जुड़े लाेगाें का मेडिकल करवाकर जेल ले जाती पुलिस।

शहर में मंगलवार सुबह करीब 4 बजे एटीएस टीम व 100 से अधिक पुलिसकर्मियों ने पीएफआई से जुड़े लोगों के ठिकानों पर दबिश दी। टीम ने पार्षद समीउल्ला खान निवासी मनिहारवाड़ी व शाकिर निवासी ज्योति नगर को गिरफ्तार किया है। दोनों से एटीएस व पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने दिनभर पूछताछ की। कोतवाली टीआई अवधेश शेषा ने बताया कि दोनों के खिलाफ धारा 151 में प्रकरण दर्ज कर जेल भेज दिया है।

समीउल्ला पर लगी है रासुका, पहले दंगों में शामिल रहा : शहर के वार्ड-12 से पार्षद का चुनाव जीतने वाले एसडीपीआई के प्रत्याशी हाफिज समीउल्ला खान को पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने के आरोप में जुलाई 2022 को रासुका लगाकर केंद्रीय जेल उज्जैन भेज दिया था। करीब एक सप्ताह पहले ही वह जमानत पर रिहा किया गया था। पुलिस के मुताबिक समीउल्ला पूर्व में सांप्रदायिक दंगों शामिल रहा है। उसके खिलाफ पुलिस की गाड़ियों में आगजनी व पथराव करने जैसे आपराधिक प्रकरण भी दर्ज हैं।

चार मामलों में वह सीधे तौर पर शामिल पाया गया था। पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने पर पांचवां मामला दर्ज हुआ था। कोतवाली टीआई शेषा ने बताया समीउल्ला पर पहले से ही विभिन्न मामले दर्ज हैं, जो कार्ट में चल रहे हैं। भास्कर ने समीउल्ला खान के परिजनों से बातचीत की। उन्होंने कहा- समीउल्ला पर जो भी आरोप लगे हैं, वह बेबुनियाद हैं। सच जल्द सामने आएगा।

जिले में बैठकें व कई आयोजन किएजिले में पीएफआई काफी समय से सक्रिय है। प्रत्यक्ष रूप से पीएफआई ने शाजापुर समेत जिले के कई स्थानों पर गतिविधियां आयोजित की। बैठकों के साथ सामाजिक कार्य भी किए। कोरोना काल में जरूरतमंदों की मदद, रक्तदान शिविर के साथ गांधी हॉल में एक बड़ा आयोजन पीएफआई द्वारा किया गया था। इसमें शाजापुर के साथ इंदौर, उज्जैन समेत कई शहरों के लोग शामिल हुए थे। इन सभी आयोजनों पर सुरक्षा एजेंसियों की नजर थी।

दोनों को जेल भेजापीएफआई से जुड़े लोगों को पकड़ने में प्रदेश स्तर पर मुहिम चल रही है। इसी के तहत शाजापुर में भी दो लोगों को पकड़ा गया। पूछताछ के बाद दोनों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई कर जेल भेज दिया गया है।- जगदीश डाबर, पुलिस अधीक्षक, शाजापुर

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!