अंधे कत्ल का खुलासा: झाड़ फूंक की आड़ में महिला से अश्लील हरकत का बदला लेने के लिए की थी हत्या

शहडोल32 मिनट पहले

कॉपी लिंक

शहडोल जिले के सिंहपुर थाना अंतर्गत ग्राम पड़मनिया के जंगल में 26 सितंबर 2022 को मिली अधजली लाश मामले में पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत लिया है। बुधवार को पुलिस ने बताया कि 36 से 40 वर्षीय अधेड़ का शव मिलने के बाद तत्काल एक टीम गठित की गई। विवेचना में ज्ञात हुआ कि 22 सितंबर को थाना गोहपारू, शहडोल निवासी अताउल्ला खान नामक व्यक्ति की गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज है। इसके बाद परिजनों को सूचित कर अधजली लाश की पहचान कराई गई।

झाड फूंक का काम करता था

इस दौरान परिजनों ने बताया कि मृतक मूलतः झारखंड के पलामू जिले का निवासी था। उसकी ससुराल थाना गोहपारू क्षेत्रांतर्गत ग्राम खाम्हा में थी। वह झारखंड और शहडोल में झाड फूंक का काम करता था। वह 21 सितंबर से अपने परिचित की बाइक से सिंहपुर रोड के ग्राम पड़मनिया की तरफ गया था।

हत्या के बाद जला दी बाइक

शक के आधार पर ग्राम उधिया में रहने वाले शिवशंकर यादव पिता रामजियावन यादव (28 वर्ष) निवासी ग्राम उधिया, थाना सिंहपुर से पूछताछ की गई। उसने अताउल्ला की हत्या पड़मनिया के जंगलों में किया जाना कबूल कर लिया, और बताया कि उसकी हत्या कर बाइक के पेट्रोल से उसको जला दिया था। उसके बाद बाइक नवलपुर सोन नदी में फेंक दी। आरोपी की बताई जगह से मोटर सायकल बरामद कर ली गई।

बदला लेने के लिए हत्या

पुलिस के मुताबिक आरोपी शिवशंकर मूलतः ड्राइवरी का कार्य करता है। वह अपने परिवार की एक महिला की तबीयत खराब होने पर अता उल्ला खान से झाड़ फूंक करवा रहा था। लेकिन, उसने आड़-फूंक की आड़ में महिला से अश्लील हरकतें कर दी। इसी का बदला लेने, उसे मौत के घाट उतार दिया।

इनकी रही अहम भूमिका

इस अंधे कत्ल का पर्दाफाश करने में नगर पुलिस अधीक्षक राघवेंद्र द्विवेदी, अनिल पटेल थाना प्रभारी सोहागपुर, एमपी अहिरवार थाना प्रभारी सिंहपुर, योगेंद्र सिंह परिहार थाना प्रभारी गोहपारू, अमित दीक्षित प्रभारी साइबर सेल के साथ-साथ सउनि बिपिन बागरी, भागचंद्र चौधरी, प्रधान आरक्षक सत्यनारायण पांडेय एवं आरक्षक सौरभ मिश्रा की भूमिका रही।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!