इंद्रा आवास की भरभराकर कर गिरी छत: मलबे में दबने से एक युवक हुआ घायल, हादसे के वक्त परिवार सदस्य बैठे थे बाहर, टला बड़ा हादसा


Hindi NewsLocalMpShivpuriA Young Man Was Injured Due To Being Buried In The Debris, Family Members Were Sitting Outside At The Time Of The Accident, A Big Accident Was Averted

शिवपुरी8 मिनट पहले

शिवपुरी के अमोला थाना क्षेत्र के सिरसौद गांव में एक शासकीय आवास की छत गिरने से एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। गनीमत रही कि हादसे के वक्त घर के अन्य सदस्य घर के बाहर थे, जिसके चलते एक बड़ा हादसा घटित होने से टल गया। वहीं घायल युवक को उपचार के लिए शिवपुरी के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

इंद्रा गांधी आवास में रह रहा था परिवार

जानकारी के अनुसार सिरसोद गांव की इंदिरा कॉलोनी 25 वर्ष पहले बसाई गई थी। इस कॉलोनी में 25 वर्ष पहले इंदिरा गांधी आवास योजना के तहत गरीब परिवारों को आवास मुहैया कराए गए थे। इन्हीं आवासों में से एक आवास में सिया बाई अपने परिवार के साथ रह रही थी।

बीते शाम लगभग 7:30 पर सिया बाई का बेटा 31 वर्षीय सोनू नांजर पुत्र स्वर्गीय हरचरण नांजर घर के भीतर अकेला था और उसकी दादी बसंती, सोनू का छोटा भाई मोनू घर के बाहर बैठा हुआ था। सोनू की पत्नी माता के मंदिर पर दर्शन करने गई हुई थी।

इसी दौरान घर के कमरे की छत भरभरा कर गिर गई, जिसमें सोनू बुरी तरीके से घायल हो गया। ग्रामीणों ने घायल सोनू को तत्काल मलबे से बाहर निकाला, जिसके बाद सोनू को शिवपुरी के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सिया बाई ने बताया कि उसके दो बच्चे दीपक और साधना शिवपुरी में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं, इसी के चलते वह शिवपुरी में रह रही है। उसके पति को 25 वर्ष पहले इंदिरा गांधी आवास योजना के तहत मकान मिला था। उसका परिवार मजदूरी करके जैसे-तैसे अपना जीवन यापन कर रहे थे, ऐसे में मकान की छत गिर जाने से उनके परिवार के सामने एक नई समस्या खड़ी हो गई है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!