देश का 68वां सबसे स्वच्छ शहर बना सीहोर: ओडीएफ प्लस प्लस और गार्बेज फ्री सिटी में वन स्टार रेटिंग के साथ आया सुधार, पिछले साल 117वां स्थान था

सीहोर13 मिनट पहले

कॉपी लिंक

स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 में सीहोर नगर पालिका ने अपनी एक अलग ही पहचान बनाई है। सीहोर ने स्वच्छता में देश में अपना 68 वां स्थान स्थान हासिल किया है। इसके साथ ही प्रदेश के टॉप-10 शहरों की सूची में भी सीहोर ने स्थान पाने का गौरव प्राप्त किया है। सीहोर नगरपालिका ने शहर में स्वच्छता बनाए रखने के लिए अनेक अभियान चलाकर लोगो को स्वच्छता के लिए जागरूक किया। इसी कारण स्वच्छता सर्वेक्षण के परिणामों में सीहोर ने गत वर्ष की तुलना में बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

पिछले साल थे 117 वें स्थान

स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 में सीहोर शहर को देशभर में 117 वां स्थान हासिल हुआ था। उसके बाद से ही नगरपालिका द्वारा शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने की कवायदों को शुरू कर दिया गया था। कचरा गाडियों के घर- घर जाकर कचरा कलेक्शन करने से लेकर कूड़ाघर और नालियों की नियमित सफाई का क्रम अनवरत जारी रहा। इसके अलावा सैकड़ाखेड़ी मार्ग, पुराना हाईवे, टाउनहाल के सामने, नदी चौराहा आदि स्थानों को युद्वस्तर तरीके से सुंदर बनाने के सकारात्मक प्रयास किए गए।

इसका परिणाम यह निकला कि पिछले साल 117 वीं रैंक पाने वाले सीहोर शहर ने इस साल देशभर के 4354 शहरों की महानगरपालिका, नगरनिगम, नगरपालिकाओं और नगर परिषद के बीच हुए मुकाबले में 4906 अंकों के साथ 68 वां नंबर हासिल किया है। स्वच्छता सर्वेक्षण में सीहोर शहर ने देश के एक लाख से 10 लाख तक की आबादी वाले शहरों की सूची में 48 वां स्थान प्राप्त किया है। जबकि एक लाख से 10 लाख तक की आबादी वाले प्रदेश के शहरों की टॉप 10 सूची में सीहोर को स्थान मिला है। अगर प्रदेश की पांच नगर निगम को हटा दिया जाए तो यह प्रदेश की नगर पालिकाओं में सीहोर शहर का स्थान पांचवा है।​​​​​​​ सीहोर नपा को ओडीएफ प्लस प्लस और गार्बेज फ्री सिटी में वन स्टार रेटिंग का भी दर्जा मिल गया है। महज एक साल बाद नगरपालिका ने इतना बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!