क्रिकेट खेलते समय एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर को आया हार्ट अटैक: भोपाल में 34 साल के अफसर की सांस फूली, सीने में दर्द उठा; अस्पताल में मौत

भोपाल14 मिनट पहले

भोपाल के पिपलानी इलाके में क्रिकेट खेल रहे कंपनी के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर की हार्ट अटैक से मौत हो गई। क्रिकेट खेलने के दौरान उसकी अचानक सांस फूली। सीने में दर्द होने लगा। दोस्त उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस के मुताबिक युवक को सिगरेट पीने की लत थी। घटना मंगलवार शाम की है। बुधवार को पीएम के बाद पुलिस ने शव को परिजनों को सौंप दिया है।

मूलत: रीवा के मनगवां के रहने वाला योगेश गुप्ता (34) हेल्थ केयर से जुड़ी ‘फाइटोसेल लाइफ’ कंपनी में काम करते थे। वह कंपनी में एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर थे। भोपाल में प्रभात चौराहे के पास अशोका गार्डन इलाके में किराए से रहते थे। उनके साथ काम करने वाले सतेन्द्र ने बताया कि मंगलवार शाम वह 16 सहकर्मियों के साथ पिपलानी ग्राउंड में क्रिकेट खेलने गए। करीब 10-15 मिनट ही खेले होंगे कि बॉल पकड़ने के लिए योगेश ने दौड़ लगाई, तभी अचानक उनके सीने में दर्द उठा। वह गिर गए। उन्हें उठाकर पानी पिलाया। उन्हें कुछ देर वहीं बैठाने के बाद घर भेज दिया गया।

घर में फिर उठा दर्द और मौत

घर पहुंचने के बाद सीने में फिर से तेज दर्द उठा। आनन-फानन में दोसत ऑटो से उन्हें वेदांता अस्पताल ले गए। डॉक्टरों ने हालत देख चरक अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। इसके बाद उन्हें हमीदिया रेफर कर दिया। यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

ASI भारत सिंह मीणा ने बताया कि योगेश के घर में भी वह पहुंचे। घर में सिगरेट की कई डिब्बियां मिली हैं।

ASI भारत सिंह मीणा ने बताया कि योगेश के घर में भी वह पहुंचे। घर में सिगरेट की कई डिब्बियां मिली हैं।

सिगरेट पीने की थी लत

मामले की जांच कर रहे ASI भारत सिंह मीणा ने बताया कि योगेश के घर में भी वह पहुंचे। घर में सिगरेट की कई डिब्बियां मिली हैं। उसके दोस्तों ने भी बताया कि योगेश को सिगरेट पीने की लत थी। रोजाना वह 30-40 सिगरेट पी जाते थे। भारत सिंह ने बताया कि अभी पीएम रिपोर्ट नहीं आई है, इसलिए असल वजह का पता नहीं चला है। प्रारंभिक जांच में हार्ट अटैक लग रहा है।

दशहरे पर काम नहीं होने से खेलने गए

सतेंद्र ने बताया कि दशहरा होने से ज्यादा काम नहीं था। इसलिए योगेश ने कहा कि चलो क्रिकेट खेलते हैं। ऑफिस के करीब 16 लोग मैच खेलने पिपलानी ग्राउंड गए। फील्डिंग के दौरान बॉल पकड़ते समय उनके सीने सीने में दर्द उठा और गिर गए। उन्हें उठाकर पानी पिलाया, तो बोले अभी आराम है।

15 दिन पहले ठीक था

योगेश के बड़े भाई ने बताया कि 15 दिन पहले योगेश घर रीवा आया था। उसका बॉडी चेकअप हुआ था। रिपोर्ट में सब नॉर्मल था। असल में योगेश इलाज के लिए घर से कुछ पैसे मांग रहा था, जिसके कारण बड़े भाई ने उसका पूरा चेकअप कराया था। बड़े भाई का कहना था कि अगर तुम्हें कोई दिक्कत है, तो इलाज का खर्च हम उठाएंगे, लेकिन चेकअप में सभी रिपोर्ट नॉर्मल आई थी।

यह हो सकती हैं हार्ट अटैक की वजह

भोपाल में हमीदिया अस्पताल के कॉर्डियोलॉजी डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉ. अजय शर्मा के मुताबिक युवाओं में हार्ट अटैक के कारण अचानक मौत की तीन वजह हो सकती हैं।

हाइपरट्रॉफिक कार्डियोमायोपैथी नामक बीमारी में हार्ट के एक हिस्से की मसल्स मोट हो जाती है। इससे हार्ट बीट इतनी बढ़ती है कि अटैक आने से मौत हो सकती है।आशंका है कि योगेश को पहले से ब्लॉकेज रहे हों। खेलते वक्त शरीर में हार्मोन्स रिलीज हुए, इस कारण ब्लॉकेज फटा और मेजर ब्लॉकेज होने से ब्लड सप्लाई बंद होकर अटैक आया।ऑर्टिक स्टेनोसिस वह स्थिति है, जिसमें ऑर्टिक वॉल्व में सिकुड़न तो पहले से होती है, लेकिन व्यक्ति को पता नहीं होता। दौड़भाग के कारण धड़कन तेज होती है और ब्लड सर्कुलेट न होने से अचानक मौत हो जाती है।

ये मामले भी जान लीजिए

भोपाल में 26 साल के युवक की खेलते समय मौत

भोपाल के हबीबगंज इलाके में रविवार को युवक की खेलने के दौरान मौत हो गई। कैंपियन स्कूल में अभिषेक (26) दोपहर करीब 3:30 बजे बास्केट बॉल खेल रहा था, तभी अचानक से अचेत होकर गिर पड़ा। अभिषेक को आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने जांच के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अब जानिए उस MBBS स्टूडेंट के बारे में जिसकी वर्कआउट के दौरान हुई थी मौत

रीवा के श्याम शाह मेडिकल कॉलेज में ओम गोयल (21) पुत्र मुकेश गोयल MBBS सेकंड ईयर का छात्र था। ओम गोयल ने दो दिन पहले ही ‘द कर्वे 2.0 जिम’ जॉइन किया था। मंगलवार को दूसरा दिन था। जिम के साथियों ने बताया कि ट्रेडमिल पर रनिंग के दौरान ज्यादा पसीना बहने के बाद कूलर के सामने हवा लेने लगा। इसी बीच, उसे दिल का दौरा पड़ गया। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

जिम में वर्कआउट के दौरान कार्डियक अरेस्ट के कुछ चर्चित मामले…10 अगस्त को कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव वर्कआउट करते वक्त ट्रेडमिल पर ही गिर गए थे। 21 सितंबर को उनका निधन हो गया। एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला और कन्नड़ फिल्मों के मशहूर अभिनेता पुनीत राजकुमार को भी जिम में हार्ट अटैक आया था। दोनों नहीं रहे।

भोपाल में डॉक्टर को वर्कआउट के दौरान आया था कार्डियक अरेस्ट, मौत

डॉ. राकेश मुंशी घूमने के शौकीन थे। वे कई देशों की यात्रा कर चुके थे।

डॉ. राकेश मुंशी घूमने के शौकीन थे। वे कई देशों की यात्रा कर चुके थे।

दो साल पहले 12 अक्टूबर 2020 को भोपाल में कोलार रोड स्थित एक जिम में वर्कआउट करते वक्त मप्र के स्वास्थ्य विभाग के जॉइंट डायरेक्टर राकेश मुंशी को दिल का दौरा पड़ा। जिम में मौजूद लोग उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन बचा नहीं सके। राकेश खुद की सेहत के साथ स्वास्थ्य संचालनालय के अधिकारी-कर्मचारियों को भी फिट रहने के लिए कहते थे। ‘जो फिट है, वो हिट है’ नाम का वॉट्सऐप ग्रुप बनाकर अपने साथियों को फिट रहने के मंत्र देते थे। पूरी खबर पढ़िए

एडीजी पांडे की कसरत करते समय हुई थी मौत

आईपीएस एसके पांडे को दिसंबर 2015 में भोपाल के अरेरा क्लब में वर्कआउट करते समय हार्ट अटैक आया था।

आईपीएस एसके पांडे को दिसंबर 2015 में भोपाल के अरेरा क्लब में वर्कआउट करते समय हार्ट अटैक आया था।

मध्य प्रदेश होमगार्ड के एडीजी एसके पांडे का दिसंबर 2015 में जिम में एक्सरसाइज करते हुए हार्ट अटैक से निधन हो गया था। 1988 बैच के आईपीएस पांडे प्रतिदिन की तरह ही भोपाल में अरेरा क्लब जिम वर्कआउट कर रहे थे। ट्रेडमिल पर रनिंग करने के दौरान उन्हें घबराहट हुई और पसीना आने लगा। साथी उन्हें तत्काल जेपी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर का कहना था कि आईपीएस को वर्कआउट के दौरान दिल का दौरा पड़ा था।

डांस करते वक्त हार्ट अटैक से गई डॉक्टर की जान

छले साल अक्टूबर में भोपाल के फॉरेंसिक एक्सपर्ट डॉ. सीएस जैन का डॉक्टरों की एक पार्टी में डांस करते वक्त हार्ट अटैक से निधन हो गया था। घटना के वक्त पार्टी में उनके बैचमेट डॉक्टर मौजूद थे। इनमें कुछ कार्डियोलॉजिस्ट भी पार्टी में मौजूद थे, लेकिन डांस करते वक्त आए सीवियर हार्ट अटैक ने डॉ. जैन की जान ले ली थी। यहां पढ़िए पूरी खबर

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!