MP में एक हफ्ते तक बारिश का अलर्ट: भोपाल में जमीन के 600 मीटर करीब आकर बरसे बादल; अब यहां पानी गिरेगा

भोपाल16 मिनट पहले

भोपाल में 8 साल बाद दशहरा तरबतर हुआ। बुधवार दोपहर बाद हुई तेज बारिश ने रावण दहन के कार्यक्रम में खलल डाला। कई जगह रावण को पॉलीथिन और रेनकोट से ढंकना पड़ा। भोपाल समेत अधिकांश जिलों में जोरदार बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार अगले एक हफ्ते तक प्रदेश में तेज बारिश होने के आसार हैं। 20 अक्टूबर के बाद भी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग के मुताबिक, भोपाल और ग्वालियर समेत कई जिलों में बादल जमीन के करीब 600 मीटर से लेकर 1000 मीटर तक पास आ गए थे। बारिश के थमने के बाद भी सूरज बादलों के पीछे ही छिपा रहा। नया सिस्टम लगातार 2 हफ्ते तक बारिश करा सकता है। ऐसे में मध्यप्रदेश में 20 अक्टूबर के बाद भी बारिश होने की संभावना है।

कब कहां-कहां तेज बारिश की संभावना है…

6 से 9 अक्टूबर तक: ग्वालियर, बुंदेलखंड और बघेलखंड, भोपाल, नर्मदापुरम।9 से 12 अक्टूबर तक: भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर, बघेलखंड, इंदौर और महाकौशल।12 से 15 अक्टूबर तक: बुंदेलखंड, इंदौर, भोपाल, नर्मदापुरम, रायसेन, विदिशा, बैतूल, खंडवा में कहीं-कहीं हल्की से तेज बारिश।15 और 18 अक्टूबर तक: गुना, अनूपपुर, इंदौर, उज्जैन, भोपाल, रायसेन, विदिशा, सीहोर और छिंदवाड़ा।18 से 21 अक्टूबर तक: बालाघाट, सिवनी, छिंदवाड़ा, रायसेन, शिवपुरी, अशोक नगर, विदिशा, निवाड़ी, छतरपुर, दमोह।21 से 24 अक्टूबर तक: बालाघाट, ग्वालियर, शिवपुरी, श्योपुरकलां, विदिशा में कहीं-कहीं।नर्मदापुरम में रात 1 बजे से गरज-चमक के साथ बारिश हुई।

नर्मदापुरम में रात 1 बजे से गरज-चमक के साथ बारिश हुई।

यहां 8 अक्टूबर तक बारिश का यलो अलर्ट

मौसम विभाग ने आने वाले 4 दिन के लिए भोपाल समेत अधिकांश जिलों में यलो अलर्ट जारी किया है। इनमें भोपाल, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, सीहोर, धार, इंदौर, अलीराजपुर, बड़वानी, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, अशोकनगर, गुना, ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुर, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, डिंडोरी, कटनी, छिंदवाड़ा, जबलपुर, बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, रीवा, सतना, सीधी, सिंगरौली, छतरपुर, सागर, टीकमगढ़, पन्ना, दमोह, निवाड़ी, बैतूल, हरदा और नर्मदापुरम शामिल हैं।

भोपाल, दमोह और दूसरे शहरों में दशहरा के दिन हुई बारिश से रावण के पुतले भीग गए।

भोपाल, दमोह और दूसरे शहरों में दशहरा के दिन हुई बारिश से रावण के पुतले भीग गए।

सागर में जोरदार बारिश

सागर में विजयदशमी पर झमाझम बारिश होने से शहर तरबतर हो गया। सड़कों पर पानी बह निकला। दोपहर करीब 1 बजे से रिमझिम बारिश का दौर शुरू हुआ जो कुछ ही देर में झमाझम बारिश में तब्दील हो गया। अचानक हुई बारिश से बाजार में लोग भीगते नजर आए। बारिश को देखकर PTC ग्राउंड में खड़े रावण के पुतले को पॉलीथिन से ढका गया। वहीं, सड़कों पर पानी जमा हो गया।

मध्यप्रदेश में बारिश के बीच बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक विजयादशमी पर्व उत्साह और उल्लास से मनाया गया। इस दौरान कई जगहों पर रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले भीग गए। भोपाल, उज्जैन, छतरपुर समेत कई जगहों पर पेट्रोल-डीजल या केरोसिन डालकर पुतलों का दहन किया गया। उज्जैन में सीएम शिवराज सिंह दशहरा पर्व में शामिल हुए। उन्होंने बरसते पानी में संबोधित किया। भोपाल के टीटी नगर दशहरा मैदान पर कुछ देर के लिए भगदड़ की स्थिति बनी। पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!