राहुल की भारत जोड़ो यात्रा पर निकलीं बंदूकें: कांग्रेस बैठक में यात्रा प्रभारी और जिलाध्यक्ष में हुई बहस, बंदूकें निकलने पर गरमाई राजनीति


Hindi NewsLocalMpGwaliorIn Congress Meeting, There Was A Debate Between The Travel In charge And The District President, Politics Heated Up On The Release Of Guns

ग्वालियरएक घंटा पहले

फाइल फोटो

जिला प्रभारी बोले-सूचना आई है शनिवार को पहुंचकर देखता हूं क्या मामला है

कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा पर शुक्रवार शाम ग्वालियर में बंदूकें तन गईं। मौका था मध्य प्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान स्वागत का। अचानक बुलाई गई बैठक में यात्रा प्रभारी योगेन्द्र तोमर मंडल अध्यक्षों से बात कर रहे थे। तभी कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने देवेन्द्र शर्मा ने उनके तरीके का विरोध किया। इस पर यात्रा प्रभारी उनसे भिड़ गया। इसी दौरान यात्रा प्रभारी ने अपने समर्थकों से बंदूकें निकाल लाने के लिए कहा।नीचे से दाे युवक बंदूक लेकर ऊपर आ गए। उस समय वहां हंगामा के हालात बन गए। वरिष्ठ नेताओं ने हालात को संभाला, लेकिन मामले की शिकायत भोपाल व दिल्ली तक पहुंच गई है। जांच के लिए भोपाल से जिला प्रभारी महेन्द्र सिंह शनिवार को ग्वालियर पहुंचे रहे हैं। इस तरह के मामले की सूचना मिलने की उन्होंने पुष्टि की है।कांग्रेस मध्य प्रदेश में 15 साल तक सत्ता से दूर रहने के बाद साल 2018 में सत्ता हासिल करने में कामयाब रही थी, लेकिन केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के 22 विधायकों के साथ कांग्रेस से बगावत करने के बाद कांग्रेस सत्ता से फिर दूर हो गई। पूरे देश में कांग्रेस का हाल ठीक नहीं है। यही कारण है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। इस यात्रा के नवंबर महीने के अंत तक मध्य प्रदेश में आने की संभावना है। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ भी इस यात्रा के माध्यम से वापस मध्य प्रदेश में कांग्रेस को सत्ता में लाने के लिए पूरी ताकत लगा रहे हैं। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा नवंबर महीने के अंत में आने की उम्मीद है। भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने प्रियंका गांधी भी मप्र के दौरे पर आएंगी। पीसीसी में इसका पूरा प्लान बनाया जा रहा है। इसी को लेकर प्रत्येक जिले में एक-एक यात्रा प्रभारी बनाया गया है। कई इलाकों से उप यात्राएं इस भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने की संभावना है। ग्वालियर जिले में भारत जोड़ो यात्रा का प्रभारी योगेन्द्र सिंह तोमर को बनाया गया है। इसी काे लेकर शुक्रवार शाम को बैठक बुलाई गई थी।बैठक में यात्रा प्रभारी और जिलाध्यक्ष में हुआ टकराव, लहराईं बंदूकें- शुक्रवार शाम कांग्रेस कार्यालय ग्वालियर में यात्रा के संबंध में अचानक बैठक बुलाई गई थी। बैठक में योगेन्द्र तोमर मंडल अध्यक्षो से बारी-बारी उनको खड़ा कर उनके प्लान के बारे में पूछ रहे थे। इसी समय कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा ने इसका विरोध करते हुए कहा कि आप अपना कार्यक्रम व प्लान बता। ऐसे सभी को खड़ा कर मत बात करो। इस पर यात्रा प्रभारी योगेन्द्र भड़क गए। उनकी जिलाध्यक्ष से बहस शुरू हो गई। उसी समय वहां यात्रा प्रभारी के कहने पर उनके समर्थक नीचे कार से बंदूकें निकाल लाए। पर वहां कुछ वरिष्ठ नेताओं ने हालात को काबू में कर लिया। अब मामले की शिकायत दिल्ली और भोपाल तक की जा चुकी है। कांग्रेस के अन्य मंडल अध्यक्षों ने यात्रा प्रभारी को हटाने या उनके इस्तीफे को स्वीकार करने तक की चेतावनी दी है।विवाद पर जिम्मेदारों का कहना- इस विवाद पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा का कहना है कि बैठक में ऐसा कुछ नहीं हुआ था। यात्रा प्रभारी का तरीका गलत था। मैंने समझाया तो उस पर वाद विवाद हो गया था। मामले से मैंने भोपाल में वरिष्ठ नेतृत्व को अवगत करा दिया है।- यात्रा प्रभारी योगेन्द्र तोमर का कहना है कि मैं बात कर रहा था पता नहीं जिलाध्यक्ष को क्या बुरा लगा। बंदूकें तानने की बात पर कहा कि एक गार्ड तो हमेशा मेरे साथ रहता है। बंदूक किसी ने नहीं तानी थी।- जिला प्रभारी महेन्द्र सिंह ने कहा कि इस तरह की सूचना मिली है। शनिवार को ग्वालियर आ रहा हूं। वहीं आकर देखता हूं कि सही स्थिति क्या है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!