शरद पूर्णिमा के अवसर पर खीर का वितरण: कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में भक्तों को बाटेंगे खीर, पंडित प्रदीप मिश्रा के निर्देश पर होगा आयोजन

Hindi NewsLocalMpSehoreKheer Will Be Distributed To The Devotees In Kubereshwar Mahadev Temple, Will Be Organized On The Instructions Of Pandit Pradeep Mishra

सीहोर26 मिनट पहले

कॉपी लिंक

हर साल की तरह इस साल भी जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर और कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में शरद पूर्णिमा के अवसर पर खीर बांटी जाएगी। भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के निर्देशानुसार विठलेश सेवा समिति के कार्यकर्ताओं यहां पर विशेष रूप से पूजा अर्चना करेंगे।

रविवार पूर्णिमा है। इसे शरद पूर्णिमा कहा जाता है। धर्म-कर्म के साथ ही आयुर्वेद में भी शरद पूर्णिमा का महत्व बताया गया है। मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात देवी लक्ष्मी पृथ्वी का भ्रमण करती हैं। इस दौरान देवी सभी से पूछती हैं कि जागृति यानी कौन जाग रहा है? शरद पूर्णिमा की रात चंद्र की रोशनी औषधीय गुणों से भरपूर रहती हैं।

चंद्र की रोशनी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसी वजह से इस पूर्णिमा की रात में घर के बाहर चंद्र की रोशनी में खीर पकाने की परंपरा है। घर के बाहर खीर पकाने से चंद्र की किरणें खीर पड़ती हैं, जिससे खीर में औषधीय गुण आ जाते हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि आगामी रविवार को यहां पर आने वाले सभी श्रद्धालुओं को समिति खीर की प्रसादी बांटेगी।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!