3 दिन से अंधेरा में डूबा गांव!: 10 परिवारों ने नहीं चुकाया बिल तो पूरे गांव की काट दी बिजली, MPEB की ये कैसी कार्रवाई!

Hindi NewsLocalMpChhindwaraIf 10 Families Did Not Pay The Bill, Then The Electricity Of The Entire Village Was Cut, What Kind Of Action Of MPEB!

छिंदवाड़ा4 घंटे पहले

कॉपी लिंक

उमरानाला विधुत वितरण केंद्र अंतर्गत कोसमढाना गांव में तीन दिनो से अंधेरा छाया हुआ है। बता दे यहा पर 10 घरो के विधुत बिल बकाया राशि के चलते पूरे गांव की बिजली काट दी गई है। जिसके कारण ग्रामीणों का जीना मुहाल हो गया है।

सारंगबिहरी विधुत सब स्टेशन से 8 किलोमीटर दूर कोसमढाना गांव के रहने वाले ग्रामीण रामकिशन सिलू, नेहरू सिलू, देवेंद्र सिलू, राजा सिलू समेत ग्रामीणो ने बताया कि उनके छोटे से आदिवासी गांव में कुल 40 अधिक घरो में विधुत कनेक्शन है।

इनमे से 10 घरो के ऐसे उपभोक्ता है जिन्होंने बिजली बिल राशि जमा नही की है । जिसके चलते विधुत विभाग के द्वारा पूरे गांव कि बिजली काट दी गई है। तीन दिनो से गांव में अंधेरा है, फिर भी एमपीईबी के अधिकारी की नींद नहीं खुल रही है ।

एक तरफ वर्तमान में बच्चों की त्रेमासिक परीक्षा भी चल रही है जिससे बच्चों को बेहद परेशानी हो रही है। इधर सबंधित विधुत विभाग के अधिकारी से संपर्क साधा गया किंतु उनका फोन कवरेज एरिया से बहार बताया गया।

करे कोई , भरे कोई

इस संबंध में कोसम ढाना में रहने वाले ग्रामीण विनोद ने बताया कि विधुत विभाग के अधिकारियों को चाहिये था कि जिन उपभोक्ताओं ने बिजली बिल नही पटाया उनके घरो के कनेक्शन काटना था ना कि पूरे गांव कि बिजली काटी जानी थी। यहां कर कोई रहा और भर कोई रहा है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!