कतिया समाज के आयोजन में विवाद: जिला पंचायत अध्यक्ष गजेंद्र शाह ने किया हरिजन शब्द का इस्तेमाल, कतिया युवा संगठन ने थाने में की शिकायत

Hindi NewsLocalMpHardaDistrict Panchayat President Gajendra Shah Used The Word Harijan, Katia Youth Organization Complained To The Police Station

हरदा17 मिनट पहले

कॉपी लिंक

रविवार को जिला मुख्यालय की कृषि उपज मंडी प्रांगण में कतिया समाज ने जनप्रतिनिधियों के सम्मान समारोह का आयोजन रखा था। जिला पंचायत अध्यक्ष गजेंद्र शाह और नगर पालिका अध्यक्ष भारती कमेडिया बतौर अतिथि के रूप में शामिल हुए थे। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष शाह ने कार्यक्रम में अपने उद्बोधन के दौरान हरिजन शब्द का प्रयोग किया। अब कतिया समाज युवा संगठन ने रविवार शाम को सिटी कोतवाली पहुंचकर उनके खिलाफ एक शिकायती पत्र दिया है।

संगठन के जिलाध्यक्ष राहुल पवारे ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अनुसूचित जाति में आने वाली किसी भी जाति के लोगों के लिए हरिजन शब्द का प्रयोग बैन किया है। बावजूद इसके जिला पंचायत अध्यक्ष शाह ने सार्वजनिक रूप से इस तरह से समाज को हरिजन कहकर संबोधित किया है, जो समाज के साथ साथ सुप्रीम कोर्ट का भी अपमान है। उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा नेता सत्ता के नशे में बौखला कर अनुसूचित जाति जनजाति को हमेशा अपमानित करते हैं। उन्होंने कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन कर सड़क पर आने की बात कही है।भाजपा जिलाध्यक्ष अमर सिंह मीणा को कार्यक्रम में अतिथि के रूप में आमंत्रित को लेकर युवा संगठन ने पूर्व में ही विरोध जताने को कहा था, जिससे वे कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए।

भावनाओं को गलत तरह से दिखाने का किया प्रयास- गजेंद्र शाहइस बारे में जिला पंचायत अध्यक्ष गजेंद्र शाह ने कहा कि कतिया समाज के पदाधिकारियों ने उन्हें बतौर अतिथि के रूप में आमंत्रित किया था। जिसमें मैंने पवित्र भावना के साथ समाज के उत्थान को लेकर बात की गई। उन्होंने कहा कि उनके उद्बोधन में कहीं भी किसी समाज जाति को अपमानित करने की मंशा नहीं रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि दल विशेष से लगाव रखने वाले कुछ विध्न संतोषी लोग समाज के आयोजनों में भी अपनी राजनैतिक रोटी सेकने का प्रयास करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरी भावनाओं को गलत तरीके से दिखाने का प्रयास किया है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!