शिशुओं डायबिटीज, हृदय रोग और थायराइड की समस्य बढ़ी: गर्भवती महिला कुपोषित तो समय से पहले होगा विकृत शिशु का जन्म: डॉ. शमी

शिवपुरी29 मिनट पहले

कॉपी लिंक

गर्भवती महिला यदि कुपोषित है तो उसके जन्म लेने वाला शिशु विकृति के साथ उत्पन्न होने के अधिक चांस रहते हैं। ऐसे बच्चे मां के उदर से समय से पहले भी जन्मते है और विभिन्न रोगों के शिकार हो जाते हैं। यह बात मेडिकल कॉलेज शिवपुरी के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ शमी जैन ने बच्चों में होने वाली बीमारियों और उनकी रोकथाम विषय पर जानकारी देते हुए स्वास्थ शिविर आयोजन के दौरान जैसवाल जैन धर्मशाला में कही। उन्होंने शिशुओं में होने वाली बीमारियों के बारे में बताते हुए कहा कि आजकल नवजात शिशुओं में हृदय रोग डायबिटीज और थायराइड की समस्या अधिक देखने मिल रही है ऐसे में इन बीमारियों का उपचार होना सुलभ तो है लेकिन इसके लिए समय पर बीमारी पता लगना आवश्यक है इसलिए असामान्य शिशु की जांच समय-समय पर चिकित्सक से कराते रहना चाहिए।

डायबिटीज रोग विशेषज्ञ डॉ दीपक गौतम ने भी वर्तमान में चल रही कई तरह की डायबिटीज के बारे में विस्तार से मरीजों को बताया और उनको उपचार कराने की सलाह दी चर्म रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मानसी बंसल ने कहा कि मौसम प्रदूषण वर संक्रमण के कारण कई तरह की चर्म रोग शरीर में उत्पन्न होते हैं और इनसे बचाव का तरीका सिर्फ सावधानी है। शिविर संयोजक डॉक्टर एच पी जैन ने बताया कि शिविर के दौरान 468 मरीजों का पंजीयन किया गया जिसमें पहली बार एक ही छत के नीचे मरीजों की विभिन्न जांचें परामर्श और दवाइयों का वितरण किया गया। शिविर स्थल पर रक्तदान शिविर भी आयोजित किया गया जिसमें आईटीबीपी जवानों के साथ जैन समाज के महिला पुरुषों ने भागीदारी कर रक्तदान किया।

इन डॉक्टर ने किया मरीजों का परीक्षणशिविर में मेडिसिन से डॉ डी के बंसल, डॉ रत्नेश जैन, डॉ चंद्रशेखर गुप्ता, डॉ दीपक गौतम, डॉ अमित गुप्ता, सर्जरी विशेषज्ञ डॉ सन्मति जैन, डॉ पंकज गुप्ता, शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ शम्मी जैन, डॉ प्रियंका गर्ग, नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ एच पी जैन, डॉ गौरव जैन, दंत रोग विशेषज्ञ डॉ प्रतीक जैन, टीवी और चर्मरोग विशेषज्ञ डॉ.आर के जैन, डॉ मानसी बंसल, नाक -कान-गला विशेषज्ञ डॉ मेघा प्रभाकर, ऑर्थोपेडिक विशेषज्ञ डॉ ओ पी शर्मा, पैथोलॉजिस्ट डॉ मुकेश जैन, डॉ दिलीप जैन, महिला रोग विशेषज्ञ डॉ उमा जैन, डॉ अंजना जैन, डॉ सुनीता जैन, डॉ शिखा जैन, डॉ प्रणीता जैन एवं डॉ इंदु जैन ने अपनी सेवाएं प्रदान की। समाजसेवी संस्था जैन मिलन, स्याद्वाद युवा क्लब, जैसवाल जैन नवयुवक संघ एवं सहयोगी संस्थाओं में पुलक जनचेतना मंच, वीर सेवा संघ ने अपनी सेवाएं दी।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!