विदेशों में बसे भारतीयों ने देखा महाकाल लोक का लोकार्पण: न्यूजीलैंड, जर्मनी सहित 40 देशों के मंदिरों में हुए धार्मिक आयोजन

भोपाल6 घंटे पहले

उज्जैन में नवनिर्मित ‘महाकाल लोक’ के लोकार्पण का कार्यक्रम मध्यप्रदेश और भारत के साथ ही दुनियाभर के करीब 40 देशों में लाइव देखा गया। मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान के आह्वान पर पूरे प्रदेश के मंदिरों व शिवालयों में भजन-कीर्तन और धार्मिक कार्यक्रमों के साथ ही लाइव प्रसारण का इंतजाम किया गया था। साथ ही दूसरे देशों में बसे प्रदेश मूल के निवासियों को बीजेपी के विदेश विभाग की ओर से लाइव लिंक उपलब्ध कराई गई थी। BJP प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने बताया लोकार्पण कार्यक्रम को लाइव देखने वाले विदेशों में रहने वाले मप्र के भाई-बहनों में उत्साह रहा। श्रृद्धा और भक्ति के साथ भारतीय समय के अनुसार अपने-अपने देशों में परिवार सहित श्री महाकाल लोक के लोकार्पण को देखा गया है। ये गौरव का क्षण है जब पूरे विश्व में धार्मिक वातावरण एक साथ निर्मित हुआ है।

USA, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, डेनमार्क, जर्मनी, कनाड़ा, UAE, UK, बेल्जियम, कुवैत, जापान, हॉलैंड, इंडोनेशिया, श्रीलंका सहित दुनिया के करीब 40 देशों में बसे मप्र के मूल निवासियों और भारतीयों ने अपने आसपास के हिन्दू मंदिरों और घरों में बैठकर लाइव प्रसारण देखा।

दैनिक भास्कर को इन देशों से मिले एक्सक्लूसिव वीडियो

नॉर्थ कैरोलीना में रहने वाले विनय भारद्वाज ने बताया कि उन्होंने बहुत उल्लास के साथ इस लाइव टेलीकास्ट को देखा। उन्होंने कहा- आज बहुत अच्छा अनुभव हो रहा है।

नॉर्थ कैरोलीना में रहने वाले विनय भारद्वाज ने बताया कि उन्होंने बहुत उल्लास के साथ इस लाइव टेलीकास्ट को देखा। उन्होंने कहा- आज बहुत अच्छा अनुभव हो रहा है।

न्यूजीलैंड में रहने वाले शैलेश ने बताया कि मैं अपने मप्र से हजारों किलोमीटर दूर भले हूं लेकिन आज इस कार्यक्रम को देखकर ऐसा लगा कि जैसे उज्जैन में हूं और श्री महाकाल लोक का लोकार्पण देख रहा हूं।

न्यूजीलैंड में रहने वाले शैलेश ने बताया कि मैं अपने मप्र से हजारों किलोमीटर दूर भले हूं लेकिन आज इस कार्यक्रम को देखकर ऐसा लगा कि जैसे उज्जैन में हूं और श्री महाकाल लोक का लोकार्पण देख रहा हूं।

सिडनी (ऑस्ट्रेलिया) में रह रहे अविरल जैन ने बताया कि सिडनी शहर में श्री महाकाल लोक का कार्यक्रम लाइव देखा। यह देखकर मुझे बहुत ही ज्यादा खुशी हुई।

सिडनी (ऑस्ट्रेलिया) में रह रहे अविरल जैन ने बताया कि सिडनी शहर में श्री महाकाल लोक का कार्यक्रम लाइव देखा। यह देखकर मुझे बहुत ही ज्यादा खुशी हुई।

अमेरिका के टेक्सास के आस्टिन में बने श्री दुर्गा शक्ति धाम देवालय में धार्मिक कार्यक्रम हुए। यहां पर मप्र से टेक्सास गए लोगों ने मंदिर पहुंचकर महाकाल लोक के लोकार्पण कार्यक्रम को देखा। उन्होंने मंदिर में भजन-कीर्तन भी किए।

अमेरिका के टेक्सास के आस्टिन में बने श्री दुर्गा शक्ति धाम देवालय में धार्मिक कार्यक्रम हुए। यहां पर मप्र से टेक्सास गए लोगों ने मंदिर पहुंचकर महाकाल लोक के लोकार्पण कार्यक्रम को देखा। उन्होंने मंदिर में भजन-कीर्तन भी किए।

हिन्दू मंदिरों में भी हुए धार्मिक आयोजनइस दौरान टेक्सास के आस्टिन में बने श्री दुर्गा शक्ति धाम देवालय में भी धार्मिक कार्यक्रम हुए। दिर के आचार्य कृष्ण कुमार पांडेय ने कहा आज सभी हिन्दुओं के लिए गौरव का दिन है। महाकाल की नगरी को दिव्य-भव्य स्वरूप देकर लोकार्पण किया गया है। पहले तपस्या करने के लिए लोग कैलाश पर्वत की ओर जाते थे लेकिन अब ऐसा ही स्वरूप उज्जैन में बनकर तैयार हुआ है। विदेशों में बसे हुए लोग आज इस दृश्य को देखकर गौरव का अनुभव कर रहे हैं। इस मौके पर आज टेक्सास के मंदिर में हिन्दू समाज की ओर से कीर्तन का आयोजन किया गया।

दुबई में परिवार के साथ राहुल कुमार लाइव टेलीकास्ट देखते हुए

दुबई में परिवार के साथ राहुल कुमार लाइव टेलीकास्ट देखते हुए

इन्होंने भी देखा लाइव टेलीकास्टकनाड़ा में प्रफुल्ल लखानी, फॉएनिक्स ऑरिजोना में पांडेय फैमिली और जर्मनी के हैम्बर्ग में अनुश्री श्रीवास्तव ने उज्जैन में हुआ ये आयोजन देखा। अनुश्री ने बताया- भारत से दूर जर्मनी में बैठकर महाकाल लोक के भव्य स्वरूप को देखकर आनंद की अनुभूति हुई। USA के शिकागो में विनीता पटेल ने लाइव टेलीकास्ट देखा।

यह भी पढ़िए…

‘महाकाल लोक’ राष्ट्र को समर्पित,PM मोदी ने कहा, शंकर के सान्निध्य में साधारण कुछ भी नहीं

जय महाकाल.. ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को जब उज्जैन में ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर के नए परिसर ‘महाकाल लोक’ का लोकार्पण किया, तो चारों ओर इसी जयघोष की गूंज सुनाई दी। वैदिक मंत्रोच्चार के बीच रक्षा सूत्र (कलावे) से बनाए गए 15 फीट ऊंचे शिवलिंग की प्रतिकृति से मोदी ने रिमोट के जरिए जैसे ही आवरण हटाया, अध्यात्म का यह नया आंगन सभी के लिए खुल गया। पढ़ें पूरी खबर

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!