अब मोबाइल से बात करना होगा आसान: टावर नेटवर्क विहीन गांवों के साथ पूरे जिले को बीएसएनएल देगा 4 जी की सुविधा

सिंगरौली21 मिनट पहले

कॉपी लिंक

सिंगरौली जिले में अभी तक थ्री जी की सुविधा दे रहा बीएसएनएल अब नेटवर्क विहीन गांवों के साथ पूरे जिले में 4जी की सुविधा देने जा रहा है। छह महीने के भीतर ग्राहकों को यह सेवा मिलना शुरू कर दिया। साथ ही 45 से अधिक थ्री जी टावर अपग्रेड किए जाएंगे। नेटवर्क विहीन 31 गांवों में बीएसएनएल की फोर जी सेवा बहुत जल्द पहुंचेगी।

बता दें कि चितरंगी सहित दूरस्थ अंचल के इलाके में मोबाइल नेटवर्क नहीं है। चितरंगी व देवसर तहसील के कई गांव आज भी नेटवर्क से दूर हैं। बीएसएनएल की इस पहल के बाद चितरंगी व देवसर के दूरस्थ गांवों में निर्बाध मोबाइल नेटवर्क मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्रों में नेटवर्क की सुविधा देने के लिए सर्वे किया जा चुका है।

इसी के साथ शहरी क्षेत्र में थ्री जी की सेवा को फोर जी में बदलने के लिए सर्वे पूरा हो गया है। जिले के चितरंगी व देवसर ब्लाक के कुछ गांवों में अब तक किसी भी कंपनी के मोबाइल नेटवर्क की सुविधा नहीं थी। इसलिए नेटवर्क विहीन गांवों को अब 4 जी नेटवर्क से कनेक्ट कर दिया जाएगा।

बताया गया कि शत प्रतिशत गांवों को मोबाइल नेटवर्क से जोड़ने का कार्य केंद्र और मप्र शासन की प्राथमिकता में है। सर्वे कार्य बहुत पहले पूरा किया जा चुका है। इस संबंध में कलेक्टर से टावर स्थापित करवाने में बीएसएनएल के अधिकारियों को सहयोग देने को कहा है।

देवसर, माड़ा व सरई तहासील के गांव

देवसर तहसील के भलुही टोला, भटौला, बिरछी, चौराडांड, खैराखूटा व परमा में फोरजी नेटवर्क उपलब्ध कराने के लिए टावर लगाए जाएंगे। इसी प्रकार माड़ा तहसील के महदेवा टोला, सरई तहसील के करमा टोला, लदबई व मदरईच में टावर लगाया जाएगा। फोरजी नेटवर्क के लिए सिंगरौली तहसील के चूडचुडिय़ा, देवरी कला, गुंघवा, करकोटा, मुड़वनिया टोला व पलहवा गांव में टावर लगाए जाने का निर्णय लिया गया है।

सबसे अधिक चितरंगी के गांव शामिल

सिंगरौली जिले के 31 गांवों को प्रथम चरण में लिया गया है। इसमें सबसे ज्यादा चितरंगी और फिर देवसर के गांव शामिल हैं। इसके अलावा माड़ा, सिंगरौली व सरई तहसील के भी नेटवर्कविहीन गांवों को लिया गया है। बताया गया है कि नेटवर्क विहीन 31 गांवों में चुनाव के दौरान परेशानियों का समाना करना पड़ता था। इन गांवों को नेटवर्क के मामले में शैडो एरिया में शामिल कर समानान्तर व्यवस्था करनी पड़ती है अब शैडो एरिया भी खत्म हो जाएंगे।

चितरंगी ब्लॉक में ये गांव चिह्नित

चितरंगी ब्लाक में नेटवर्क विहीन गांवों में अमसी, बगदा, भितरी, बोदरहवा, डेर, घुमाडांड, दुरदुरा, घोदर, गिदउहा, गुलरिहा, खैरछन, माझीगांव, मोहगढ़ी, नैकहवा, पिपरवा टोला, रेडी, सुदा में नेटवर्क की बेहतर सुविधा पहुंचेगी। यहां पर बीएसएनएल की फोर जी सेवा पहुंचने वाली है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!