पंचायत मंत्री की सभा में लगे बैनर से गायब CM-सिंधिया: शिवपुरी में आयोजित बैठक में आधे ही सरपंचों ने की शिरकत, बैनर पर जनपद सचिव से मांगा जवाब


Hindi NewsLocalMpShivpuriIn The Meeting Held In Shivpuri, Only Half Of The Sarpanches Did, Sought Reply From The District Secretary On The Banner

शिवपुरी26 मिनट पहले

केंद्रीय गृह मंत्री के कार्यक्रम को लेकर मध्यप्रदेश में तैयारियां जोरों पर हैं। केंद्रीय गृह मंत्री के कार्यक्रम को सफल बनाने मंत्री से लेकर कार्यकर्ता अनेक छोटे-छोटे कार्यक्रम कर रहे हैं। इसी कड़ी में मध्यप्रदेश के पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने बीते शाम स्नेह बिहारी गार्डन में पंचायतों के सरपंचों सहित सचिव व रोजगार सहायकों को भीड़ जुटाने के लिए प्रोत्साहित करने एक बैठक का आयोजन किया।

कोलारस नगर में आयोजित इस बैठक में शामिल होने पहुंचे ग्राम पंचायत रांची के सरपंच प्रतिनिधि गोलू यादव ने मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह सिसोदिया से शिकायत करते हुए कहा कि पिछले छह महीने से पंचायतों में एक रुपए का भी काम नहीं हुआ है। इसकी मुख्य वजह कमीशन खोरी बन रही है, बताओ! हम करें तो क्या करें? इतना ही नहीं गोलू ने अधिकारियों की तरफ इशारा करते हुए यहां तक कहा कि इन्हें झोला भर-भर कर रूपया देते हैं, फिर भी सुनवाई नहीं होती। गोलू की बात पर मंत्री ने उसी से उल्टा सवाल पूछ लिया कि आप मंदिर पर प्रसाद चढ़ाते हो या नहीं। इस पर गोलू ने जबाब दिया कि हां चढ़ाते हैं। इस पर मंत्री ने उससे का कि वहां इसलिए प्रसाद चढ़ाते हो क्योंकि आपका स्वार्थ है, वही स्थिती यहां पर है। गोलू ने जब भ्रष्टाचार मिटाने के संबंध में की जाने सरकार की बयान बाजी पर कटाक्ष करते हुए यह कहा कि आठ साल हो गए हैं, आखिर भ्रष्टाचार कब मिटेगा तो मंत्री ने स्पष्ट रूप से कहा कि आठ साल नहीं अस्सी साल भी लग सकते हैं। कुल मिलाकर पंचायत मंत्री ने अप्रत्यक्ष रूप से यह स्वीकार किया कि पंचायतों में भ्रष्टाचार होता रहता है, जिसे मिटाने का प्रयास किया जा रहा है।

पंचायत मंत्री की पंचायत में नहीं पहुंचे सरपंच

इस कार्यक्रम की खास बात यह रही कि पंचायत मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह सिसोदिया के इस कार्यक्रम में कोलारस की सभी 68 पंचायतों के सरपंचों को जनपद पंचायत सीईओ ऑफिसर सिंह गुर्जर द्वारा बुलाया गया था। परंतु आधी ही पंचायतों के सरपंच इस कार्यक्रम में पहुंचे। इसी बात से नाराज मंत्री ने सीईओ गुर्जर से कहा कि मेरे आने से पहले तुमने सरपंचों की हाजिरी ली या नहीं। मंत्री ने हाजिरी रजिस्टर मंगवाए और उपस्थित सरपंचों की संख्या जानना चाही, लेकिन वह संख्या नहीं बता पाए। बात को संभालने के लिए उन्होंने यहां तक कह दिया कि महिला सरपंचों की संख्या ज्यादा है, इसलिए आज यहां उपस्थिती कम है। इस पर मंत्री ने कहा कि उनके प्रतिनिधियों को तो आना चाहिए था। मंत्री ने इस पर मंच से ही कहा कि सीईओ तो सस्पेंड होगा, लेकिन कार्यक्रम के अंत में उन्होंने यह कहा कि सीईओ को आज विधायक वीरेंद्र रघुवंशी और पूर्व विधायक महेंद्र यादव ने बचा लिया।

बैनर पर सीएम और सिंधिया के फोटो न होने पर बिफरे सरपंच –

शिवपुरी शहर के मानस भवन में आयोजित पंचायत मंत्री की पंचायत में मंच पर बैनर लगाए गए थे। परंतु बैनर पर क्षेत्रीय विधायक यशोधरा राजे और पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया सहित नीचे की तरफ जिपं अध्यक्ष नेहा यादव व जपं अध्यक्ष हेमलता रावत का फोटो लगा था। इस पर गूगरीपुरा के सरपंच व जनपद पंचायत अध्यक्ष हेमलता रावत के पति रघुवीर रावत ने बैनर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का फोटो न होने पर आपत्ति दर्ज करवाई। उन्होंने जनपद पंचायत के प्रभारी सीईओ दौलत सिंह को जबाब तलब करते हुए कहा कि यह बैनर जिसने भी लगवाया है, उसकी जानकारी जुटा कर उचित कार्रवाई की जाए। उन्होंने पंचायत मंत्री के समक्ष भी समीक्षा बैठक में इस विषय पर आपत्ति जताई।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!