मुरैना में व्यापारी को बनाया बंधक: 6 घंटे तक व्यापारी व उसका परिवार रहा आरोपियों के कब्जे में

Hindi NewsLocalMpMorenaThe Dumper Driver Hit The Car, Beat Up, Kept The Businessman And His Family Hostage For 6 Hours

मुरैनाएक घंटा पहले

मुरैना के जौरा में एक डंपर चालक ने जौरा के एक व्यापारी की कार में पीछे से टक्कर मार दी। जब व्यापारी ने डंपर चालक से कहा तो उसने अपने साथी बुला लिए और व्यापारी व उसके परिवार के साथ मारपीट कर दी। यही नहीं डंपर चालक ने व्यापारी व उसके परिवार को 6 घंटे तक बंधक बनाकर रखा। उसके बाद शाम को पांच बजे छोड़ा, जिसके बाद व्यापारी को जौरा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बता दें, कि व्यापारी कमल किशोर, अपने परिवार के साथ अपनी इनोवा कार से निरार माता के दर्शन करने गया था। उसके साथ में उसका चार साल का बेटा दर्श मंगल, दोस्त गिर्राज बंसल, भाई शुभम मंगल तथा उसका 14 वर्षीय बेटा विनायक मंगल कार में मौजूद थे। यह लोग दर्शन के लिए जा रहे थे कि रास्ते में जौरा से पहाड़गढ़ तक जिस रोड का निर्माण चल रहा है उसमें गिट्‌टी ढो रहे डंपर चालक ने उनकी कार में पीछे से टक्कर मार दी। जब उन्होंने डंपर चालक से कहा कि तुमने टक्कर क्यों मारी तो उसने फोन करके अपने साथियों को बुला लिया और कमलकिशोर व उसकी कार में मौजूद सभी लोगों की मारपीट कर दी।

अस्पताल में इलाज कराता व्यापारी

अस्पताल में इलाज कराता व्यापारी

6 घंटे तक बनाए रहे बंधकडंपर चालक ने न केवल कार में सवार सभी लोगों के साथ मारपीट की बल्कि उन्हें 6 घंटे तक लगातार बंधक बनाए रखा। सुबह से लेकर शाम तक बंधक बनाने के बाद उन्हें शाम को 5 बजे छोड़ा। उसके बाद व्यापारी व उसके साथ सभी लोग जौरा अस्पताल पहुंचे जहां उनका इलाज चल रहा है।पुलिस ने दर्ज नहीं की रिपोर्टइस मामले में पुलिस ने अभी तक डंपर चालक व उसके साथियों के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया है। व्यापारी जब निरार थाना रिपोर्ट लिखाने पहुंचा तो वहां थाना प्रभारी मौजूद नहीं थे, जब उन्होंने वहां मौजूद स्टाफ से कहा कि उनकी रिपोर्ट लिखी जाए, लेकिन उनकी रिपोर्ट नहीं लिखी गई। व्यापारी की माने तो इसके पीछे मुख्य कारण उस सड़क निर्माता कंपनी की दबंगई है जिसके काम में डंपर लगा हुआ है।

अस्पताल में मौजूद व्यापारी का बड़ा भाई नरोत्तम मंगल

अस्पताल में मौजूद व्यापारी का बड़ा भाई नरोत्तम मंगल

कहती है पुलिस अधिकारीरिपोर्ट क्यों नहीं लिखी गई, इसकी मैं जानकारी लेता हूं और अगर निरार में नहीं लिखी गई है तो मुरैना में दर्ज कर ली जाएगी।रायसिंह नरवरिया, ASP, मुरैना

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!