ग्रामीणों को दिलाई नशा मुक्ति की शपथ: वन ग्रामों को राजस्व में बदलने लिया प्रस्ताव

बैतूलएक घंटा पहले

कॉपी लिंक

वन ग्राम ठेसका में रविवार को ग्रामसभा का आयोजन किया गया। जिसमें वन अधिकारों की जानकारी दी गई। वन ग्रामों को राजस्व ग्राम में बदलने संबंधित प्रस्ताव लिए गए, शासन द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी देकर ग्राम को स्वच्छ रखने एवं नशामुक्ति की शपथ दिलाई गई।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य रामचरण इरपाचे, सरपंच मोरुढाना संतोषी महादेव धुर्वे , जयराम अहाके, सचिव प्रवीण कुमार लहरपुरे, बीटगार्ड वनरक्षक विमल पाल, ग्राम पटेल सुंदरलाल अहाके, चैतराम अहाके, साधुराम उइके ,दिलीप अहाके प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

जिला पंचायत सदस्य रामचरण इरपाचे ने बताया वन ग्राम को राजस्व ग्राम में बदलने की घोषणा हो चुकी है। राजस्व ग्राम बन जाने के बाद उन गांवों के विकास की बागडोर ग्राम पंचायत के पास आ जाएगी जिससे विकास कार्यों की वन विभाग से अनुमति की अब कोई आवश्यकता नहीं होगी। जनहित के कार्य हो या सामुदायिक विकास कार्य अब पंचायत के माध्यम से होने लगेंगे। सरकार अब गाइड लाइन और दिशा-निर्देश तैयार कर रही है।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!