मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान की समीक्षा: नर्मदापुरम में पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री एवं उच्चशिक्षा मंत्री, दो घंटे देरी से समीक्षा

नर्मदापुरमएक घंटा पहले

मप्र के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी एवं उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव बुधवार शाम को नर्मदापुरम कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। कलेक्ट्रेट में दोनों मंत्रियों ने मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान की विभागवार समीक्षा की। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान से हर पात्र व्यक्ति को लाभान्वित किया जाए। मैदानी स्तर पर अभियान की माइक्रो मॉनिटरिंग की जाए। अभियान में सभी पात्र व्यक्तियों के आयुष्मान कार्ड भी बनाए जाए। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान अच्छा अवसर है, हर जरूरतमंद व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने का। योजनाओं में प्राप्त आवेदनों को निरस्त ना करें। नामांतरण, बंटवारा जैसे अन्य राजस्व प्रकरणों के भी आवेदन प्राप्त कर उनके निराकरण के निर्देंश दिए। बैठक में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने बताया कि जिले में अभियान के तहत अभी तक 1,65,361 आवेदन प्राप्त हुए हैं , जिसमें से 124412 आवेदन स्वीकृत किए जा चुके हैं। 10,658 आवेदन अस्वीकृत किए गए हैं। शेष 30278 आवेदनों का निराकरण किया जा रहा है। इस अवसर पर विधायक सोहागपुर ठाकुर विजयपाल सिंह, प्रदेशाध्यक्ष किसान मोर्चा दर्शन सिंह चौधरी, भाजपा नेता पीयूष शर्मा, एसपी पुलिस अधीक्षक डॉ. गुरकरण सिंह, जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम, अपर कलेक्टर मनोज सिंह ठाकुर सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। समीक्षा बैठक 6 बजे से शुरू होनी थी। लेकिन दोनों मंत्री रात 8 बजे सिवनी मालवा से नर्मदापुरम पहुंचे। जिससे दो घंटे देरी से बैठक शुरू हुई।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!