भोपाल का कुख्यात किन्नर काजल गिरफ्तार: मुंबई भागने की फिराक में था, 16 केस दर्ज; वर्चस्व के लिए किन्नरों के बाल कटवा देता है


Hindi NewsLocalMpBhopalWas Trying To Escape To Mumbai, 16 Cases Registered; Gives Shemales A Haircut For Domination

भोपालएक घंटा पहले

बैरागढ़ पुलिस ने इनामी कुख्यात किन्नर काजल बंबईया को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उसे शुक्रवार तड़के भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफाॅर्म-6 से पकड़ा है। वह मुंबई भागने की फिराक में था। उस पर भोपाल के अलग-अलग थानों में 16 संगीन अपराध हैं। वह मंगलवारा थाने का निगरानीशुदा बदमाश है। खुद का वर्चस्व बढ़ाने दूसरे किन्नरों, समुदाय के गुरु के बाल तक काट चुका है। पुलिस का दावा है कि वह शूटर तक रखता है। दूसरे गुट के किन्नरों पर हमला करवा चुका है। पुलिस ने उसे दोपहर में कोर्ट में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया।

बता दें कि 25 सितंबर को उसने साथियों के साथ मिलकर मछली मार्केट बैरागढ़ में रहने वाले किन्नर काव्या शीतलानी (22) पर धारदार हथियार अड़ाकर 30 लाख रुपए की रंगदारी मांगी थी। काव्या के उसने बाल तक काट दिया था। इसके बाद परेशान होकर किन्नरों ने पुलिस कमिश्नर कार्यालय में प्रदर्शन कर सप्ताहभर के अंदर काजल को गिरफ्तार करने की मांग की थी।

पुलिस के मुताबिक मछली मार्केट की रहने वाले किन्नर काव्या शीतलानी (22) पुत्र रामचंद्र ने 25 सिंतबर 2022 को किन्नर काजल बम्बईया, किन्नर कायनात, फराज शूटर के खिलाफ धमकी देकर लूटपाट, अड़ीबाजी, रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया था। फरियादी ने आरोप लगाया था कि उससे 30 लाख रुपए मांगे गए न देने पर मारपीट की और बाल काट दिए। पुलिस ने तीनों पर 30 सितंबर को तीन-तीन हजार का इनाम घोषित किया। तीनों आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित की गई।

पुलिस को सूचना मिली कि काजल बंबईया रेलवे स्टेशन प्लेटफाॅर्म नंबर-6 के पास मुंबई भागने के लिए ट्रेन का इंतजार कर रहा है। पुलिस ने घेराबंदी कर उसे दबोच लिया। हालांकि वह इस दौरान पुलिस से बच के भागने का भी प्रयास किया। पुलिस ने काजल को जिला न्यायालय में पेश किया।

काजल बंबईया के रिकॉर्डकिन्नरों के बीच इलाके को लेकर झगड़े के चलते 18 सितंबर 2022 को गुरु सुरइया ने 30 साल के देवीसिंह को टीटी नगर मामले में राजीनामे के लिए बुलाया था। उस दौरान धोखे से किन्नर मुस्कान, काजल, काजल बंबईया ने किन्नर देवी सिंह पर हमला कर दिया सिर के बाल काटकर सिर पर कैंची घोंप दी थी। देवीसिंह ने थाने जाकर तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। इसके पहले भी किन्नर देवीसिंह पर तलवार से जानलेवा हमला कर चुका था। बीते सालों में दोनों पक्षों में कई बार गोली और तलवारें चल चुकी हैं।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!