दीपावली का बाजार: चांदी की ड्रायफ्रूट ट्रे, मोर रथ, कलश और शंख भी बाजार में

ग्वालियर38 मिनट पहले

कॉपी लिंकमांग बढ़ने के कारण ज्वेलरी शोरूम और शॉप पर चांदी से बने बर्तन और सजावटी सामान की आकर्षक रेंज। - Dainik Bhaskar

मांग बढ़ने के कारण ज्वेलरी शोरूम और शॉप पर चांदी से बने बर्तन और सजावटी सामान की आकर्षक रेंज।

दीपावली त्योहार पर उत्साह इस बार शहरवासियों में दिखाई दे रहा है। बाजार में लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है। इसलिए दुकानदार और शोरूम संचालकों ने भी इन्हें खोलने एवं बंद करने के समय में भी बदलाव किया है। अब तक दोपहर 12 बजे से खुलने वाले अधिकांश ज्वेलरी के शोरूम और शॉप अब सुबह 10 बजे से खुल रहे हैं। वहीं रात 11 बजे तक बंद हो रहे हैं।

इसके बाद भी खरीदारी करने वाले लोगों की संख्या कम नहीं हो रही हैं। इस बार बाजार में त्योहार पर अपने खास लोगों को उपहार में देने के लिए कई आइटम आए हैं। इनमें खासतौर पर चांदी के आइटम हैं। इनकी डिमांड ज्यादा देखी जा रही है। इसका एक कारण यह भी है कि इस बार चांदी में सबसे ज्यादा गिफ्ट आइटम आए हैं। 22 और 23 अक्टूबर को धनतेरस है और 24 अक्टूबर को दीपावली है।

शहर के सराफा बाजारों में त्योहार पर सिल्वर और सिल्वर प्लेटेड आइटम्स की भरमार, चांदी के दीपक, लालटेन, मोमबत्ती भी आई हैं

यह आइटम आए: शहर में प्रमुख तीन सराफा बाजार हैं। इनमें सबसे बड़ा महाराज बाड़ा में हैं। वहीं उपनगर मुरार और ग्वालियर के हजीरा में भी सराफा बाजार है। यहां खासतौर पर त्योहार पर सिल्वर और सिल्वर प्लेटेड आइटम्स में ड्रायफ्रूट ट्रे, नारियल और कलश, कुबेर कलश, मोर रथ, लाल टेन के अलावा सिल्वर प्लेटेड में शंख, कैंडल स्टैंड, आइडल्स, ट्रे सेट आदि की वैरायटी हैं।थाली: धनतेरस और दीपावली के लिए खास चांदी की पूजा थाली पूजा भी आई है। इसके अलावा इसे गिफ्ट भी दे सकते हैं। इसमें जल के कलश, मिठाई के लिए कटोरी और तिलक के लिए बाॅक्स भी है। यह सब थाली से अटैच है। इसके अंदर मोर पंख से डिजाइन बना है, जिसमें भगवान कृष्ण बने हैं।लालटेन: दीपावली रोशनी का त्योहार है। इसलिए इस बार चांदी के दीपक, लालटेन, मोमबत्ती आदि आई हैं। इसके अलावा दीपक रखने का स्टैंड भी आया है।ड्रायफ्रूट ट्रे: यह खासतौर पर ऑक्सीडाइज है। इस पर कार्विंग की हुई है। इसमें अलग-अलग साइज में कई विकल्प मौजूद हैं।शंख: यह सिल्वर प्लेटेड शंख है। इसमें विष्णु भगवान के दस अवतार को उकेरा गया है। इसका बेस व्हाइट मैटल का है, जिस पर कार्विंग कर सिल्वर प्लेटिंग की जाती है।माेर रथ: यह रथ स्टाइल पूजा घर और घर सजाने के लिए उपयोग किया जा सकता है। इसमें चार पहिए लगे होते हैं। जिसे कहीं भी रखा जा सकता है। इसे अलग-अलग तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे डाइनिंग टेबल पर इसमें फ्रूट्स रख सकते हैं या फिर पानी डाल कर कैंडल्स रख सकते हैं। इसके आगे मोर बनाया है।खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!