भाई ने की थी बहन की हत्या: CCTV फुटेज आए हाथ, भाई अपने दोस्त के साथ स्पॉट पर दिखा, तभी से है गायब


Hindi NewsLocalMpGwaliorThe Hand Of The CCTV Footage Came, Brother Was Seen On The Spot With His Friend, Since Then It Is Missing

ग्वालियर20 मिनट पहले

मृतका माला शर्मा जिसकी हत्या में उसके भाई व भाई के दोस्त को आरोपी बनाया गया है

पुलिस ने नवविवाहिता के भाई पर किया हत्या मामला दर्ज

ग्वालियर की अयोध्या नगरी में 16 दिन पहले हुई महिला की हत्या में उसके भाई और भाई के दोस्त की भूमिका सामने आई है। आखिरकार पुलिस को एक CCTV फुटेज मिला है, जिसमें महिला का भाई अंदर जाते और बाद में हड़बड़ाते हुए बाहर आता दिख रहा है। उसके साथ में उसका दोस्त भी है।

अब पुलिस को यकीन हो गया है कि भाई ने ही दोस्त के साथ मिलकर बहन की हत्या कर गहने लूटे हैं। हत्या लूट के लिए की गई है या कोई और भी कारण है। यह हत्यारे भाई के हाथ आने के बाद ही पता चल सकेगा। इस मामले में शुरू से पुलिस महिला के पति पर भी संदेह कर रही थी। पुलिस ने आरोपी की तलाश में टीमें रवाना कर दी हैं।यह है पूरा मामलाशहर के जनकगंज स्थित अयोध्या नगरी निवासी मनीष शर्मा होटल कर्मचारी है और उसकी पत्नी माला शर्मा, डेढ़ साल का बेटा व देवर यहां पर रहते थे।। 6 अक्टूबर के दोपहर ढाई बजे जब मनीष घर पर खाना खाने आया तो उसकी पत्नी माला शर्मा की लाश बेडरूम में पड़ी हुई थी। उसका बेटा पत्नी के पेट पर खेल रहा था। अलमारी से 10 तोला वजनी सोने के जेवर व 50 हजार रुपए गायब थे। घटना का पता चलते ही पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू कर दी है। वहीं घटना का पता चलते ही मृतका के पिता रामबाबू शर्मा व उनके अन्य परिजन भी मौके पर पहुंचे और पति मनीष पर हत्या के आरोप लगाए थे। इसके बाद पुलिस ने प्रारंभिक पड़ताल मनीष को ही संदेह के घेरे में रखकर की थी, लेकिन धीरे-धीरे ऐसे कुछ सबूत मिलते गए कि मृतका पति मनीष पुलिस के शक के दायरे से बाहर निकलता चला गया।फुटेज से हुआ खुलासा, भाई ने ही की थी हत्यापुलिस ने मामले की जांच की तो मृतका के घर के पास लगे CCTV कैमरे खंगाले तो दो युवक उनके घर में जाते और बाहर आते नजर आए। इसका पता चलते ही पुलिस ने फुटेज के आधार पर मृतका के पति से पूछताछ की तो मृतका के पति मनीष ने बताया कि फुटेज उनके साले शेखर शर्मा व दूसरा युवक साले के पड़ोस में रहने वाला है। इसका पता चलते ही पुलिस ने शेखर के मोबाइल की डिटेल निकाली तो पता चला कि घटना वाले दिन उसकी लोकेशन जनकगंज इलाके में थी और घटना के दिन शेखर के परिजन ने इसकी जानकारी पुलिस को नहीं दी थी। मामले में पुलिस ने शेखर व उसके साथी पर हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश में पुलिस की एक टीम गाजियाबाद आरोपियों को पकडऩे के लिए रवाना की है।पुलिस का कहनाजनकगंज थाना प्रभारी आलोक सिंह परिहार ने बताया कि मृतका के भाई व उसके साथी के खिलाफ हत्या व लूट का मामला दर्ज कर पुलिस टीम आरोपियों की तलाश में रवाना की है। जल्द ही आरोपी को पकड़ लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

error: Content is protected !!